राम मंदिर हमेशा एजेंडे में रहा है: संघ

Monday, October 20, 2014

A A

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

लखनऊ | एजेंसी: संघ के बयान से प्रतीत होता है कि राम मंदिर का मुद्दा फिर से उठने वाला है. इसके लिये संघ, नई सरकार को समय देने के पक्ष में है. जाहिर है कि संघ अभी चल रही निवेश के माहौल में देश में शांति बनाए रखना चाहता है परन्तु इतना तय है कि उसने राम मंदिर के मुद्दे का त्याग नहीं किया है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आयोजित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक के समापन के बाद संघ के सरकार्यवाह सुरेश जोशी उर्फ भैया जी जोशी ने सोमवार को साफ किया कि राम मंदिर मुद्दा हमेशा ही संघ के एजेंडे में रहा है. उन्होंने कहा कि इसके लिए नई सरकार को पर्याप्त समय दिया जाएगा. राजधानी के सरस्तवती कुंज में पत्रकारों से बातचीत में संघ के नेता भैया जी जोशी ने कहा, “राम मंदिर हमेशा एजेंडे में रहा है. यह तो सत्य है कि वहां राम मंदिर था. इसी के चलते लाखों लोग वहां दर्शन के लिए आते हैं.”

उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार ने कहा है कि मंदिर निर्माण में आने वाली बाधाओं को दूर किया जाएगा. जोशी ने कहा कि फिलहाल यह मामला उच्चतम न्यायालय में चल रहा है. मंदिर निर्माण में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए केंद्र सरकार को थोड़ा और समय दिया जाएगा.

एक सवाल के जवाब में जोशी ने कहा कि महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का समर्थन लेना न लेना भारतीय जनता पार्टी का मसला है. इससे संघ का कोई लेना-देना नहीं है. यह भाजपा को तय करना है कि समर्थन लेना है या नहीं.

उन्होंने कहा, “भाजपा में वरिष्ठ व अनुभवी लोग हैं. वे खुद फैसला करेंगे. इससे हमारा कोई मतलब नहीं है.”

उप्र में पिछले कई महीनों से चल रहे लव जिहाद के मुददे पर जोशी ने संघ का रुख स्पष्ट किया और कहा कि इस तरह की चुनौती का सामना हिन्दू समाज पिछले 15 वषरें से कर रहा है. इस मुद्दे को सांप्रदायिक दृष्टि से नहीं देखा जाना चाहिए.

उन्होंने कहा कि इसमें महिलाएं पीड़ित होती हैं. उनके बारे में भी समाज को सोचना चाहिए. संघ इस तरह के मुद्दों को इसीलिए समाज के सामने लाता है ताकि उस पर चर्चा हो. संघ हमेशा ही समाज के साथ खड़ा रहा है.

काले धन के मुद्दे पर जोशी ने कहा कि केंद्र सरकार ने जनता को भरोसा दिया था कि वह सरकार में आने के बाद इस मुद्दे को हल करेगी. अब इसकी जिम्मेदारी भी सरकार पर ही है कि वह इस रास्ते में आने वाली तमाम बाधाओं को दूर कर अपनी जिम्मेदारी निभाए.

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के सवाल पर संघ के इस नेता ने कहा कि जो भी परिणाम सामने आए हैं उसके बाद सरकार बनाने के लिए धरातल पर काम हो रहा है. जल्द ही परिणाम सामने आएंगे.

उल्लेखनीय है कि लखनऊ में संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक 17 से 19 अक्टूबर तक चली. बैठक में हुई चर्चाओं की जानकारी देने के लिए जोशी सोमवार को सरस्वती कुंज में मीडिया से मुखातिब हुए.

Tags: , , , , ,