राजा भैय्या जाएंगे जेल

Friday, March 8, 2013

A A

राजा भैय्या

लखनऊ: प्रतापगढ़ के बाहुबली विधायक और पूर्व मंत्री राजा भैय्या एक बार फिर जेल के दरवाजे पर हैं. सीबीआई द्वारा डीएसपी की हत्या के मामले में रघुराज प्रताप सिंह ऊर्फ राजा भैय्या के खिलाफ हत्या की साजिश रचने संबंधी एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही यह तय हो गया था कि अब राजा भैय्या एक बार फिर जेल जाएंगे.

राजा भैय्या और उनके चार सहयोगियों के खिलाफ मृतक डीएसपी जिया उल हक की पत्नी परवीन आजाद ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि गुलशन यादव, हरी ओम, रोहित सिंह और गुड्डू सिंह राजा भैया के गूर्गे है और राजा भैया के कहने पर मेरे पति को जान से मारने की नीयत से वहां पहुंचे थे. इन चारों ने कुछ अन्य लोगों के साथ मिल कर पहले मेरे पति और डीएसपी जिया उल हक को लाठी, डंडा और सरिया से मारा. जब वह गिर गए तो उनको तमंचे से गोली मार दी.

इधर बाहुबली विधायक राजा भैय्या ने इस मुद्दे पर विधानसभा में सफाई दी थी कि घटना के समय वे लखनउ में मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के निवास पर थे. माना जा रहा है कि कुंडा से पांच बार विधायक और भारतीय जनता पार्टी व समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री रहे राजा भैय्या शुक्रवार के बाद कभी भी गिरफ्तार हो सकते हैं.

सीबीआइ ने चार आपराधिक मामलों में राजा भैया समेत 23 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. ये मुकदमें इस तरह हैं-

1. नन्हें यादव की हत्या. हत्या का मुकदमा. आरोपी- कमल पाल, अजय पाल, अजित सिंह और राजीव सिंह.
2. डीएसपी जिया उल हक की हत्या. हत्या और लूट का मुकदमा. आरोपी- सज्जन सिंह, रामसूरत, फूलचंद, पवन, सुधीर, बबलू, नन्हें लाल, घनश्याम सरोज, मंजीत यादव और रामलखन.
3. सुरेश यादव की हत्या. हत्या का मुकदमा. आरोपी- विजय कुमार, संजय कुमार, राजकुमार और संजय कुमार सिंह गुड्डू.
4. डीएसपी जिया उल हक की हत्या. वादी-जियाउल की पत्नी परवीन आजाद. मारपीट, तोड़फोड़, हत्या और हत्या के षड्यंत्र का मुकदमा. आरोपी – गुलशन यादव, हरिओम श्रीवास्तव, रोहित सिंह, संजय सिंह गुड्डू और रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया.

Tags: , , ,