आरोपियों की वीडियो फुटेज से होगी पहचान

Monday, September 2, 2013

A A

Print Friendly
आसाराम बापू

रायपुर । एजेंसी: तोड़-फोड़ में लिप्त आसाराम के समर्थकों की पहचान के लिये रायपुर पुलिस घटना के वीडियो फुटेज खंगालेगी. इस मामले में पुलिस ने मीडिया से सहयोग मांगा है. घटनास्थल पर कवरेज करने वालों से वीडियो क्लिप मांगी गई है ताकि इसके जरिए उपद्रव करने वालों की पहचान हो सके. एएसपी डा. लाल उमेंद सिंह का कहना है कि जल्दी ही आरोपियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

गौर तलब है कि आसाराम बापू के समर्थकों द्वारा तेलीबांधा क्षेत्र में रविवार को किए गए हंगामे में पुलिस फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर पाई है. इस मामले में पुलिस मीडियाकर्मियों से घटना की वीडियो क्लिप मांग रही है जिसके जरिए आरोपियों की पहचान की जा सके. दूसरी ओर यह भी पता चला है कि पुलिस ने घटना स्थल के आस-पास रहने वालों से भी आरोपियों के बारे में पूछताछ की मगर उन्होंने किसी को भी पहचानने से इंकार कर दिया है.

आसाराम बापू पर लगे अनाचार के आरोप तथा उनके खिलाफ की गई पुलिस कार्रवाई के विरोध में समर्थक उद्वेलित हो गए. रविवार को आसाराम बापू के समर्थकों ने राजधानी रायपुर में भी हंगामा खड़ा कर दिया. बिना पुलिस-प्रशासन को बिना सूचना दिए उन्होंने तेलीबांधा में वीआईपी रोड के समीप आवागमन को बाधित कर दिया था. इस घटनाक्रम का कवरेज करने पहुंचे मीडियाकर्मियों से उन्होंने दुर्व्यवहार किया और कुछ पर हमला भी कर दिया था.

काफी कोशिश के बाद भीड़ को सड़क से हटाया गया. तब तक मार्ग पर वाहनों की कतारें लग गई थी. राहगीरों के साथ आसाराम समर्थकों की हाथापाई भी हो गई. इस मामले में तेलीबांधा थाने में आसाराम समर्थकों के खिलाफ चार अलग-अलग मामले दर्ज किए गए थे. इस मामले में पुलिस ने आसाराम समर्थकों के खिलाफ अपराध तो दर्ज कर लिया है मगर फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर पाई है.

यह भी उल्लेखनीय है कि भीड़ ने चक्काजाम के दौरान कुछ वाहनों में तोड़फोड़ भी किया था और पुलिस कर्मियों पर भी हमला कर दिया था.

Tags: , , ,