मारपीट के आरोपी पूर्व विधायक को जेल

Tuesday, September 3, 2013

A A

कैदी

बिलासपुर | विशेष संवाददाता: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की एक अदालत ने मारपीट के आरोपी रायगढ़ के पूर्व विधायक विजय अग्रवाल की जमानत याचिका नामंजूर करते हुए उन्हें न्यायिक रिमांड पर जेल भेजने के आदेश दिए हैं.

विजय अग्रवाल के ऊपर सात वर्ष पूर्व कोटा विधानसभा चुनाव के दौरान पेड्रांरोड में सरकारी कर्मचारियों से मारपीट करने का आरोप था जिसमें पेंड्रा न्यायालय ने उनके स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया था जिसके खिलाफ अग्रवाल ने जमानत याचिका दाखिल की थी.

मामला 03 सितंबर 2006 का है जब बिलासपुर जिले के पेंड्रा के तहसील कार्यालय के कर्मचारी रमेश कुमार राठौर तथा तत्कालीन पटवारी गोपाल प्रसाद के साथ रायगढ़ के पूर्व विधायक विजय अग्रवाल ने मारपीट और गाली-गलौज की थी. मामले में उन पर शासकीय कार्य में बाधा डालने के आरोप भी लगे थे. इस मामले में मारपीट में शामिल भाजपा के स्थानीय कुछ कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था.

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2006 में कोटा विधानसभा के उपचुनाव हुए थे. इस उपचुनाव में वर्तमान में भी कोटा की विधायक और पूर्वल मुख्यमंत्री अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी उम्मीदवार थी और उनके खिलाफ भाजपा की ओर से भूपेन्द्र सिंह चुनाव मैदान मे थे. विजय अग्रवाल भाजपा के पेड्रांरोड में चुनाव संचालक थे. इसी दौरान अग्रवाल ने इन शासकीय कर्मचारियों से मारपीट और गाली गलौज की थी.

इसके अलावा भी उन्होंने कुछ महिलाओं से भी मारपीट कर उनकी तलाशी ली थी जो की जोगी के ठहरने वाले मकान से बाहर निकली थी. गौरतलब है कि विजय अग्रवाल 1993 से रायगढ़ के विधायक थे पर 1998 का चुनाव हार गये थे.

Tags: , , , ,