राहुल मेरा अतिथि था: ललित मोदी

Saturday, July 4, 2015

A A

ललित मोदी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: ललित मोदी ने कहा राहुल गांधी उनके अतिथि रह चुके हैं. ललित मोदी ने ट्वीटर पर एक फोटो साझा करते हुये दावा किया कि राहुल गांधी आईपीएल मैच के समय उनके बॉक्स में बैठे थे. जाहिर है कि इससे कांग्रेस के हमले झेल रही भाजपा को एक जवाबी मुद्दा मिल गया है. इंडियन प्रीमियर लीग के पूर्व प्रमुख ललित मोदी ने आरोप लगाया है कि आईपीएल कमिश्नर रहने के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी तथा उनके बहनोई रॉबर्ट वाड्रा उनकी मेहमानवाजी का लुत्फ उठा चुके हैं. कांग्रेस के सूत्रों ने हालांकि इन आरोपों को खारिज करते हुए इसे निराधार बताया है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय माकन ने कहा कि ललित मोदी सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की मदद करने का प्रयास कर रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि ललित मोदी ने शुक्रवार को ट्विटर पर राहुल गांधी तथा रॉबर्ट वाड्रा के साथ अपनी दो तस्वीरें पोस्ट की थीं.

ललित मोदी ने ट्वीट किया, “मुझे आशा है कि राहुल गांधी का कार्यालय कांग्रेस को सूचित करेगा कि मैं उनकी मेहमानवाजी कर चुका हूं. वे मेरे बॉक्स में बैठे थे.”

यह तस्वीर संभवत: किसी आईपीएल मैच की लगती है, जिसमें अन्य लोगों के साथ बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान, उनकी पत्नी गौरी खान तथा अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी दिखाई दे रही हैं.

ललित मोदी ने यह भी पूछा है कि क्या उन्होंने (राहुल गांधी तथा वाड्रा) कांग्रेस नेतृत्व को इस बात की जानकारी दी थी.

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने मोदी को भगोड़ा करार दिया है, जबकि कथित वित्तीय गड़बड़ी के मामले में प्रवर्तन निदेशालय उनकी तलाश कर रहा है.

ललित मोदी ने ट्वीट किया, “राहुल गांधी तथा रॉबर्ट वाड्रा से मेरा सवाल है कि क्या उन्होंने कभी मेरा आतिथ्य स्वीकार किया था और क्या उन्होंने कांग्रेस को इस बारे में जानकारी दी थी.”

कांग्रेस प्रवक्ता माकन ने हालांकि ललित मोदी पर तस्वीरों के सहारे भाजपा की मदद करने के प्रयास का आरोप लगाया. माकन ने कहा, “छोटा मोदी तस्वीरें पोस्ट कर बड़े मोदी की मदद का प्रयास कर रहा है, ताकि सत्तारूढ़ पार्टी को फायदा मिल सके.”

तस्वीरें पोस्ट करते हुए ललित मोदी ने यह भी कहा कि वे बदले नहीं हैं.

ललित मोदी ने कई विवादित ट्वीट किए हैं, जिनमें उन्होंने कई राजनीतिज्ञों के साथ कथित तौर पर अपने नजदीकी संबंधों का इजहार किया है.

एक ट्वीट के जवाब में उन्होंने ट्वीट किया, “ऐसा कभी नहीं हो सकता कि मैं राजनीति में न आऊं. हालांकि एक गैर सरकारी संगठन का गठन मेरा अगला पड़ाव होगा. मैं नरेंद्र मोदी के खिलाफ कभी नहीं जाऊंगा. हां, लेकिन गांधी के खिलाफ जरूर.”

उल्लेखनीय है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज तथा राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ मोदी की नजदीकियों के कारण राजनीति में भूचाल आ गया है और इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस उनके इस्तीफे की मांग कर रही है.

Tags: , , , ,