खाना दिल्ली में पांच मुंबई में बारह रुपये का: कांग्रेस

Thursday, July 25, 2013

A A

मिड डे मील

दिल्ली . एजेंसी : गुरुवार को कांग्रेस नेता राशिद मसूर ने दावा किया कि दिल्ली में पांच रुपये में भरपेट खाया जा सकता है. राज्य सभा सदस्य राशिद मसूर ने कहा कि जामा मस्जिद इलाके में पांच रुपयों में आप अच्छी तरह खा सकते हैं. इससे एक दिन पहले कांग्रेस के प्रवक्ता राज बब्बर ने कह था कि मुंबई में कोई भी बारह रुपयों में भरपेट खा सकता है.

देश में गरीबी कम हुई है या नही इसे छोड़कर अब बहस कितने रुपये में खाना मिलता है उस पर आ गई है. अब भाजपा तथा कम्युनिस्ट पार्टी भी इस बहस में कूद पड़ी है. भाजपा प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर के
अनुसार यह सरकार गरीबी को बनाये रखने का प्रयास कर रही है. उन्होने कहा कि सरकार गरीबी रेखा के मानदंड को नीचे खिसकाकर गरीबी कम दिखाना चाहती है.

भाजपा नेत्री मीनाक्षी लेखी ने इसे दूसरे मुद्दों से ध्यान हटाने की चाल बताया है. लेखी ने कहा कि वे गरीबी के बजाये गरीबों की संख्या कम करने का प्रयास कर रहे हैं. भाकपा नेता ने राज बब्बर के बयान पर
कहा कि वे लिखे हुए बयान को पढ़ रहें हैं. राज बब्बर को लिखे हुए बयान पढ़ने की आदत है.

योजना आयोग ने मंगलवार को कहा कि प्रति व्यक्ति खपत में वृद्धि के लिहाज से देश में गरीबी का अनुपात 2004-05 के 37.2 प्रतिशत से गिर कर 2011-12 में 29.9 प्रतिशत पर आ गया है.

कुल मिलाकर राजनीतिक हल्कों में बहस तेज है पर गरीबी है कि कमने का नाम नही ले रही है न ही गरीबों से पूछा जा रहा है कि उनकी गरीबी कितनी कम हुई है.

Tags: , ,