तेलंगाना बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी

Saturday, March 1, 2014

A A

प्रणब मुखर्जी-राष्ट्रपति

नई दिल्ली | एजेंसी: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने तेलंगाना के गठन की आखिरी औपचारिकता पूरी कर दी है. शनिवार को उन्होने आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक पर हस्ताक्षर कर दिए. इससे पहले भारी विरोध और असामान्य स्थिति के बीच संसद ने 20 फरवरी को इस विधेयक को पारित किया था.

इसके अलावा मुखर्जी ने आंध्र प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू करने की भी मंजूरी प्रदान कर दी. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को राज्य में इस संबंध में फैसला लिया. आंध्र प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल 2 जून को समाप्त हो रहा है. विधानसभा को निलंबित रखा गया है.

उल्लेखनीय है कि तेलंगाना देश का 29वां राज्य होगा और इस तरह तेलुगूभाषी लोगों के लिए अब दो राज्य हो जाएगा.

पृथक तेलंगाना राज्य में हैदराबाद सहित 10 जिले होंगे. तेलंगाना के अलग हो जाने के बाद अब आंध्र प्रदेश में 13 जिले रह जाएंगे. 10 साल तक दोनों राज्यों की राजधानी हैदराबाद होगी.

1.14 लाख वर्ग किलोमीटर में फैला और 3.52 करोड़ की आबादी वाला तेलंगाना राज्य बनने के बाद आबादी और क्षेत्रफल के लिहाज से देश का 12वां सबसे बड़ा राज्य होगा.

Tags: ,