अच्छे छात्र शिक्षक क्यों नहीं बनते: मोदी

Friday, September 5, 2014

A A

नरेन्द्र मोदी-प्रधानमंत्री

नई दिल्ली | एजेंसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों एवं छात्रों को संबोधित करते हुए पूरी दुनिया में अच्छे शिक्षकों की जरूरत है. उन्होंने हैरानी जताई कि अच्छे छात्र शिक्षक क्यों नहीं बनना चाहते? प्रधानमंत्री ने कहा कि इसका कारण तलाशने की जरूरत है कि आखिर क्यों शिक्षक का सम्मान गिर गया है और शिक्षण की चमक गायब हो गई है और बड़े होने पर छात्र शिक्षक क्यों नहीं बनना चाहते हैं?

इस तरह के पहले संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरी दुनिया में अच्छे शिक्षकों की जरूरत है और एक युवा राष्ट्र के रूप में भारत में यह क्षमता होनी चाहिए कि वह दुनियाभर को अच्छे शिक्षक दे सके.

मोदी ने कहा, “यह मेरा सौभाग्य है कि मैं उनसे मुखातिब हूं, जो देश का भविष्य हैं. आज शिक्षक दिवस है, लेकिन इस दिन का मूल्य धीरे-धीरे कम होता जा रहा है..निश्चित तौर पर कुछ ऐसे स्कूल हैं, जहां शिक्षक दिवस नहीं मनाया जाता..इस दिन अब केवल शिक्षकों को अवार्ड एवं उन्हें सम्मान देने पर ध्यान केंद्रित किया जाता है. यह आवश्यक है कि समाज में शिक्षकों की भूमिका को उजागर किया जाए.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “इस महत्वपूर्ण परंपरा को अधिक सम्मान देने की जरूरत है और इस पर चर्चा किए जाने की जरूरत है कि आखिर छात्र शिक्षक क्यों नहीं बनना चाहते हैं? इसका जवाब सभी को तलाशना चाहिए..दुनियाभर में अच्छे शिक्षकों की आवश्यकता है, जिनकी कमी है. भारत युवा राष्ट्र है, हम यह वादा क्यों नहीं करते कि भारत दुनिया को अच्छे शिक्षक मुहैया कराएगा. और, छात्रों को कहना चाहिए कि हां, मैं शिक्षक बनूंगा.”

Tags: , , , , , , , ,