‘पीके’: कहीं Trouble, कहीं Tax Free

Wednesday, December 31, 2014

A A

'पीके'- Alien

लखनऊ | मनोरंजन डेस्क: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने फिल्म ‘पीके’ को मंगलवार को देखने के बाद बुधवार को इसे उत्तर प्रदेश में टैक्स फ्री कर दिया है. उन्होंने कहा कि लोग पहले फिल्म ‘पीके’ देखे उसके बाद वे स्वंय इसे टैक्स फ्री करने की मांग करने लगेंगे. दूसरी तरफ, उत्तर प्रदेश के ही कई शहरों में ‘पीके’ का विरोध किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आमिर खान स्टारर फिल्म ‘पीके’ को राज्य में टैक्स फ्री करने का आदेश दिया है. अखिलेश ने फिल्म का विरोध करने वालों से अपील की है कि वे इस फिल्म को एक बार जरूर देखें, फिर अपनी राय दें. फिल्म के माध्यम से समाज को एक सकारात्क संदेश दिया गया है. ज्ञात हो कि फिल्म ‘पीके’ पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के के आरोप लगाए जा रहे हैं. फिल्म का उप्र के कई हिस्सों में कड़ा विरोध हो रहा है.

अखिलेश ने बुधवार को लखनऊ में पांच कॉलीदास मार्ग पर पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान यह घोषणा की. इस मौके पर उन्होंने मीडिया और राज्य के लोगों को नव वर्ष की शुभकामनाएं भी दी.

‘पीके’ फिल्म को टैक्स फ्री करने की बात पर अखिलेश ने कहा कि इस फिल्म पर हो रहे विवादों को वह काफी दिनों से सुन और देख रहे थे. इस दौरान उन्हें फुर्सत नहीं मिली की वह फिल्म देख सकें. मंगलवार रात 10 बजे उन्हें मौका मिला तो उन्होंने फिल्म देखी. इसके बाद उन्हें लगा कि इसे टैक्स फ्री होना चाहिए, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इसे देख सकें.

मुख्यमंत्री ने कहा, “जो लोग पीके फिल्म को लेकर हंगामा कर रहे हैं, उन्हें इसे जरूर देखना चाहिए. फिल्म देखने के बाद लोग इसका विरोध करना छोड़ देंगे और इसे टैक्स फ्री किए जाने के पक्ष में आ जाएंगे.”

उन्होंने कहा कि खास तौर पर ऐसे लोग जो फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं, और इसे नहीं देख पाए हैं, उन्हें देखने के लिए इसे टैक्स फ्री किया गया है.

उल्लेखनीय है कि निर्देशक राज कुमार हिरानी और आमिर खान की इस फिल्म को लेकर खासा बवाल मचा हुआ है. कई हिंदू संगठन इसे धार्मिक भावना से खिलवाड़ बताकर फिल्म का प्रदर्शन बंद कराना चाहते हैं. कई शहरों में वे अपने मकसद में सफल भी रहे हैं. इन विरोधों के बीच उत्तर प्रदेश में फिल्म ‘पीके’ को टैक्स फ्री कर दिया गया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसे देखें.

Tags: , ,