पोस्टर ब्वाय के पोस्टरो से पटा पटना

Saturday, October 26, 2013

A A

नरेंद्र मोदी

पटना | एजेंसी: मोदी के पटना रैली के लिये पूरे शहर को पोस्टरो से पाट दिया गया है. वैसे भी गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को भाजपा का पोस्टर ब्वाय माना जाता है. राजधानी के चप्पे-चप्पे पर भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बड़े-बड़े बैनर और पोस्टर लगे हुए हैं. सड़कों के किनारे और बीच में लगे इन बैनरों और पोस्टरों के माध्यम से रैली में आने के लिए लोगों से निवेदन किया जा रहा है तो कई बैनरों के माध्यम से आने वाले लोगों का स्वागत भी किया जा रहा है.

बिहार में सतारूढ़ जनता दल, युनाइटेड से 17 वषों की दोस्ती टूटने के बाद भाजपा ने अपनी शक्ति का एहसास कराने के इरादे से पहली बार किसी रैली का आयोजन किया है. इस रैली को सफल बनाने के लिए भाजपा के नेता और कार्यकर्ता जी-तोड़ मेहनत कर रहे हैं.

राजधानी पटना के प्रमुख मार्गो पर 400 से ज्यादा तोरण द्वार बनाए गए हैं. वहीं सड़कों के किनारे भगवा रंगवाले झंडे-पताकाओं से पूरा शहर पाट दिया गया है. कई स्थानों पर नरेंद्र मोदी के बड़े-बड़े कटआउट लगाए गए हैं तो कई स्थानों पर भाजपा के चुनाव चिह्न् कमल को लगाया गया है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता राजीव प्रताप रूडी कहते हैं कि हुंकार रैली के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अहंकार टूटने वाला है. उन्होंने कहा कि पटना ही नहीं पूरा बिहार मोदीमय हो गया है. उन्होंने कहा कि मोदी के प्रति रविवार को पटना में जनसैलाब उमड़ेगा.

उल्लेखनीय है कि हुंकार रैली को सफल बनाने के लिए पिछले एक महीने से भाजपा के राष्ट्रीय और प्रदेश स्तरीय नेता पूरे राज्य का दौरा कर रहे हैं और रोड शो के माध्यम से रैली में आने का निमंत्रण दे रहे हैं.

इसी के साथ पटना में जहां-जहां रैली के लिए आए लोग ठहरने वाले हैं, वहां-वहां भोजन के लिए कहीं पूरी-सब्जी का इंतजाम है तो कहीं चावल-दाल और खिचड़ी-चोखा की व्यवस्था की गई है.

भाजपा के विधायकों और पूर्व मंत्रियों के आवासों पर क्षेत्र से आने वाले कार्यकर्ताओं के ठहरने और भोजन की व्यवस्था की जा रही है. बिहार के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता अश्विनी चौबे के आवास पर 15 हजार से ज्यादा लोगों के खाने का प्रबंध किया गया है.

चौबे कहते हैं, “बिहार की संस्कृति अतिथि देवो भव: की रही है, ऐसे में जो भी लोग रैली में शामिल होने आ रहे हैं उनके रहने और खाने का इंतजाम किया जा रहा है.”

उन्होंने कहा, “उनके क्षेत्र से 100 से ज्यादा कार्यकर्ता रैली में भाग लेने के लिए फिलहाल पहुंच गए हैं. वे अपने साथ चावल, आटा, सब्जी और सत्तू लेकर पहुंचे हैं.” उनके आवास पर चार हजार लोगों के लिए खिचड़ी, चोखा और पापड़ का इंतजाम रहेगा, जबकि 15,000 से ज्यादा लोगों के लिए पूरी-सब्जी की तैयारी है.

पूर्व मंत्री जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के आवास पर एक बड़ा-सा टेंट लगाया गया है. सिग्रीवाल के मुताबिक “उनके आवास पर 40 हजार से ज्यादा लोगों के भोजन की व्यवस्था की जा रही है. उन्होंने बताया कि उनके आवास पर क्षेत्र की महिलाओं को ठहराने की व्यवस्था की जा रही है, जबकि आवास के आसपास के अन्य तीन-चार बंगलों में पुरुष सदस्यों को ठहराया जाएगा.”

रक्सौल के विधायक अजय कुमार के आवास पर क्षेत्र से आने वालों के खाने के लिए चावल, दाल और सब्जी का इंतजाम किया जा रहा है. इसके अलावा भाजपा के सभी विधायकों और पूर्व मंत्रियों के आवासों पर भी आने वालों के लिए रहने और खाने का प्रबंध किया जा रहा है. जहां पर खाने की व्यवस्था की गई है वहां हलवाई अभी से अपने कारीगरों के साथ व्यवस्था में लग गए हैं.

गांधी मैदान में भी आने वालों को ठहराने की व्यवस्था की गई है.

पटना नागरिक मंच ने पटना से रैली में भाग लेने आने वालों से चार-पांच पैकेट पूरी-सब्जी लाने की अपील की है. इसके लिए शहर में 15 भोजन पैकेट संग्रहण केन्द्र बनाए गए हैं. वहां राजधानी के लोग खाने का पैकेट जमा कर सकेंगे. एक पैकेट में 10 पूरी और सब्जी और अचार होगा. ये पैकेट रविवार के 11 बजे तक स्वीकार किए जाएंगे और उसके बाद ये पैकेट बाहर से रैली में आने वालों के बीच वितरित कर दिए जाएंगे.

पटना नागरिक मंच के काउंटरों की जिम्मेवारी देख रहे नील रतन घोष ने बताया कि इन केन्द्रों पर ढाई लाख चूड़ा-गुड़ के पैकेट, पानी और दातून भी उपलब्ध होंगे.

गौर तलब है कि भाजपा इन दिनों मोदी के हर एक रैली को बड़े जोर-शोर से प्रचारित कर रही है. उनका पूरा ध्यान 2014 के आम चुनावों पर है. जिसके लिये वे अपने मोदी ब्रांड का भरपूर उपयोग कर रहें हैं.

Tags: , , ,