संघर्ष विराम पर पाकिस्तानी तालिबान में मतभेद

Friday, April 4, 2014

A A

हकीमुल्ला मेहसूद

इस्लामाबाद | एजेंसी: पाकिस्तान के तालिबान संगठन ‘तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान’ (टीटीपी) ने कहा है कि आपसी मतभेद के कारण वे संघर्षविराम की अवधि बढ़ाए जाने पर अभी निर्णय नहीं कर पाए हैं.

समाचार पत्र ‘द नेशन’ के अनुसार, मोहम्मद एजेंसी के टीटीपी के कमांडर खालिद उमर खोराशनी ने बुधवार को कहा कि पाकिस्तान सरकार द्वारा संघर्षविराम का लगातार उल्लंघन किए जाने के कारण वे संघर्षविराम की अवधि नहीं बढ़ा रहे.

खोराशनी ने पाकिस्तान सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पाकिस्तान ने संघर्षविराम के दौरान अपने वायदों का उल्लंघन किया है. उमर ने धमकी भरे अंदाज में कहा कि पाकिस्तान को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए, क्योंकि संघर्ष अब शुरू होने वाला है.

खोराशनी ने आगे कहा कि अल्लाह ने पाकिस्तान को दंडस्वरूप टी-20 विश्व कप में इसीलिए हराया.

टीटीपी के कुछ सदस्य कुछ शर्तो पर युद्धविराम की अवधि बढ़ाना चाहते हैं, जबकि कुछ अन्य सदस्य संघर्ष शुरू कर देने के पक्ष में हैं.

संघर्षविराम की अवधि बढ़ाए जाने पर कुछ ही दिनों में टीटीपी शूरा आखिरी निर्णय ले लेगा.

हालिया शांतिवार्ताओं को देखते हुए टीटीपी ने एक मार्च को महीने भर संघर्षविराम की घोषणा की थी, जिसकी पाकिस्तान सरकार ने सराहना की थी.

Tags: , , ,