26/11 की सुनवाई तेज होगी

Friday, July 10, 2015

A A

नवाज़ शरीफ़-प्रधानमंत्री

उफा | समाचार डेस्क: पाकिस्तान 26/11 के हमले की तेज सुनवाई के लिये तैयार हो गया है. इसके लिये पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक में अपनी सहमति दे दी है. भारत और पाकिस्तान ने मुंबई में 26 नवंबर, 2008 को हुए आतंकवादी हमले से संबंधित मामले की सुनवाई में तेजी लाने पर शुक्रवार को सहमति जताई. दोनों देशों के बीच यह सहमति भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ के बीच हुई द्विपक्षीय बातचीत में बनी.

मोदी और नवाज की द्विपक्षीय बातचीत के बाद भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दोनों पक्षों ने सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने और मुंबई आतंकवादी हमलों की सुनवाई में तेजी लाने पर भी सहमति जताई.

भारतीय विदेश सचिव एस. जयशंकर ने कहा, “दोनों पक्षों ने मुंबई आतंकवादी हमले से संबंधित मामलों की सुनवाई में तेजी लाने पर सहमति जताई. उनके बीच आतंकवादियों की बातचीत से संबंधित आवाज के नमूने मुहैया कराने पर भी सहमति बनी.”

नवाज ने मोदी को वर्ष 2016 में पाकिस्तान में प्रस्तावित दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन की बैठक में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान दौरे का न्योता दिया, जिसे मोदी ने स्वीकार कर लिया.

पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज अहमद चौधरी ने कहा कि दोनों देश क्षेत्र में शांति एवं विकास को बढ़ावा देंगे और इसके लिए दोनों सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं.

उन्होंने कहा कि दोनों नेताओं ने हर तरह के आतंकवाद की निंदा की.

दोनों देशों ने एक-दूसरे की जेलों में बंद मछुआरों को रिहा करने, नई दिल्ली में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक बुलाने, धार्मिक पर्यटन बढ़ाने पर भी सहमति जताई. साथ ही भारत के सीमा सुरक्षा बल तथा पाकिस्तानी समकक्ष के साथ महानिदेशक स्तर की वार्ता और दोनों देशों की सेना के बीच भी महानिदेशक स्तर की वार्ता की सहमति बनी.

मोदी और नवाज की बातचीत लगभग एक घंटे चली, जो स्थानीय समयानुसार सुबह 9.20 बजे शुरू हुई. दोनों नेताओं की यह द्विपक्षीय मुलाकात शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन से अलग हुई.

Tags: , , , ,