पाकिस्तान सीमा से रिकॉर्ड हेरोइन बरामदगी

Saturday, January 3, 2015

A A

पाकिस्तान

चंडीगढ़ | एजेंसी: सर्दियों में हिमांक से नीचे तापमान हो या फिर गर्मियों की 45 डिग्री सेल्सियस की तपती धूप, भारत की सीमा सुरक्षा बल के जवान हर समय सचेत रहते हैं. इसी सतर्कता का नतीजा है कि बीएसएफ ने 2014 में 361 किलोग्राम हेरोइन बरामद की है. पंजाब में पाकिस्तान की सीमा से लगे इलाकों में अब तक की यह सबसे बड़ी बरामदगी है.

बीएसएफ के अधिकारियों के मुताबिक, बरामद की गई हेरोइन की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत 1,808 करोड़ रुपये से अधिक है.

पंजाब में पाकिस्तान से लगी हुई 553 किलोमीटर की कांटेदार बाड़ युक्त सीमा से साल 2014 में 30 दिसंबर तक बरामद हेरोइन, साल 2013 की तुलना में अधिक है. 2013 में 322 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई थी.

साल 2012 में बीएसएफ ने अमृतसर, गुरुदासपुर, फीरोजपुर और फाजिल्का के सीमांत जिले की तुलना में पंजाब सेक्टर से 288 किलोग्राम हेरोइन बरामद की थी.

बीएसएफ की जालंधर स्थित पंजाब सीमा के महानिरीक्षक अनिल पालीवाल ने आईएएनएस से कहा, “बीएसएफ नहीं चाहती कि सीमा पार से एक ग्राम नशीला पदार्थ भी भारत में आए. भारी मात्रा में हेरोइन बरामदगी का बड़ा कारण हमारे जवानों की अतिरिक्त सतर्कता है.”

कठोर मौसम में भी बीएसएफ अंतर्राष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा करती है. बावजूद इसके पंजाब की सत्ताधारी पार्टी शिरोमणि अकाली दल नशीले पदार्थो के मुद्दे पर उस पर हमला करती रहती है.

राज्य में नशीले पदार्थो पर अंकुश लगाने में पंजाब सरकार अपनी विफलता से ध्यान हटाने के लिए अकाली दल के नेताओं ने पिछले दिनों सीमा चौकियों के पास प्रदर्शन किया था. इस प्रदर्शन का नेतृत्व पार्टी के अध्यक्ष और राज्य के उपमुख्यमंत्री सुखवीर बादल ने किया था.

प्रदर्शनकारियों ने बीएसएफ पर पाकिस्तान और अफगानिस्तान के मार्ग से नशीले पदार्थो की तस्करी की जांच न करने का आरोप लगाया.

पालीवाल ने प्रदर्शनों के पीछे की राजनीति पर प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया. वहीं बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न जाहिर करने के आग्रह पर कहा, “सुखबीर बादल, उनके मंत्रियों और अकाली दल को बीएसएफ के खिलाफ प्रदर्शन करने की बजाय बीएसएफ जवानों के साथ कुछ रातें बितानी चाहिए जो शून्य डिग्री से नीचे तापमान, घने कोहरे और शून्य दृश्यता में भी सातों दिन 24 घंटे सीमा की सुरक्षा करते हैं. थोड़ा उन्हें भी हाड़ कंपा देने वाली ड्यूटी का अनुभव लेना चाहिए जैसा हमारे जवान करते हैं.”

साल 2013 में 246 किलोग्राम अफीम और 52 लाख रुपये के नकली भारतीय मुद्रा नोट बरामद हुए थे, जबकि पिछले साल 33 किलोग्राम अफीम और 11.83 लाख रुपये के नकली मुद्रा नोट बरामद किए गए. साल 2012 में मात्र 5.5 किलोग्राम अफीम बरामद की गई थी.

Tags: , , , , ,