अधिक उम्र के खिलाड़ी को ले शर्मिंदा हुआ छत्तीसगढ़

Tuesday, April 16, 2013

A A

हॉकी

तीसरी हॉकी इंडिया सब जूनियर पुरुष राष्ट्रीय चैम्पियनशिप (पश्चिम ज़ोन) में छ्तीसगढ़ को उस वक्त शर्मिंदगी झेलनी पड़ी जब उसके एक खिलाड़ी को तय आयु-सीमा से अधिक आयु का पाया गया. मुंबई में खेले गए इस मुकाबले में हॉकी महाराष्ट्र ने छत्तीसगढ़ हॉकी को 6-0 के बड़े अंतर से हरा दिया लेकिन चर्चा छत्तीसगढ़ के खिलाड़ी मनीष यादव की आयु को लेकर ज्यादा रही.

हॉकी महाराष्ट्र ने मैच से पहले ही टूर्नामेंट के प्रबंधकों से शिकायत कर दी की मनीष यादव तय आयु सीमा 17 वर्ष से ज्यादा का है. प्रबंधकों ने जाँच करने के बाद महाराष्ट्र की टीम की शिकायत सही पाई और छत्तीसगढ़ को मनीष यादव को टीम से हटाने को कहा गया.

छत्तीसगढ़ हॉकी के प्रबंधक जीतेंद्र कुमार सिन्हा ने मनीष की आयु की सही जानकारी न होने की बात कह कर पल्ला झाड़ने की कोशिश की है. उन्होंने कहा कि चूंकि हम खिलाड़ियों की परीक्षाओं के तुरंत बाद यहां आने के लिए निकल गए इसीलिए हमें उनकी आयु सुनिश्चित करने का समय नहीं मिला.

मज़े की बात ये है कि इससे पहले भी साल 2011 में मनीष यादव को इसी टूर्नामेंट में अधिक आयु का होने के चलते अयोग्य करार दिया गया था. ऐसे में ये सवाल उठना लाज़िमी है कि ऐसे खिलाड़ी को टीम में क्यों शामिल किया गया जिसकी आयु तय सीमा से ज्यादा है, क्योंकि इस कदम से सिर्फ छत्तीसगढ़ के खेल विभाग की छवि ही धूमिल हुई है और कुछ नहीं.

Tags: , , , ,