ट्राई विधेयक का विरोध

Friday, July 11, 2014

A A

नृपेंद्र मिश्रा

नई दिल्ली | एजेंसी: महंगाई के बाद नृपेंद्र मिश्रा को लेकर सराकर तथा विपक्ष आमने-सामने है. तृणमूल कांग्रेस ने ट्राई विधेयक का विरोध किया है जबकि कांग्रेस इस मुद्दे पर चुप रही. तृणमूल कांग्रेस के स्वागत रॉय ने कड़ा विरोध करते हुए कहा कि यह पहली बार हुआ है कि एक व्यक्ति की नियुक्ति के लिए अध्यादेश और विधेयक लाया गया है.

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण अधिनियम में संशोधन करने के लिए एक विधेयक शुक्रवार को लोकसभा में हंगामे के बीच पेश किया गया. दूरसंचार नियामक प्राधिकरण संशोधन विधेयक पारित होने से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव के पद पर ट्राई के पूर्व अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा की नियुक्ति का रास्ता साफ हो जाएगा.

यह विधेयक राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन राजग सरकार द्वारा लाए गए एक अध्यादेश का स्थान लेगा. यह विधेयक ट्राई अधिनियम में संशोधन करेगा, जो ट्राई के अध्यक्ष या सदस्य को सेवानिवृतित के बाद केंद्र या राज्य सरकार में कोई पद ग्रहण करने से रोकता है.

कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी एक आदेश के मुताबिक, उत्तर प्रदेश कैडर के 1967 बैच के सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी नृपेंद्र मिश्रा की प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पर पर नियुक्ति प्रधानमंत्री का कार्यकाल समाप्त होने के साथ समाप्त हो जाएगी.

Tags: , , ,