युवा ही बदलाव ला सकते हैं

Friday, November 29, 2013

A A

शिवानी कश्यप

नई दिल्ली | एजेंसी: हिंदी पॉप गायिका शिबानी कश्यप का मानना है कि देश का सुनहरा भविष्य युवाओं के हाथ में है. शिबानी ने हाल ही में युवाओं को मतदान के लिए जागरूक करने के उद्देश्य से आयोजित किए गए कार्यक्रम में प्रस्तुति दी. शिबानी ने बताया, “वर्षो से देश में चुनावों को लेकर निराशाजनक प्रतिक्रिया देखने को मिलती है. अब समय बदला है, नई पार्टियां अस्तित्व में आई हैं और ऐसा लगता है जैसे हर किसी को नई क्रांति का इंतजार है.”

शिबानी ने कहा, “राजनीतिक पार्टियां देश की जनता से कितने ही वादे करती हैं. लेकिन मुझे लगता है कि राष्ट्र में सकारात्मक बदलाव केवल युवा ही ला सकते हैं. वे समझ सकते हैं और तय कर सकते हैं कि किसे नेता चुनना है.”

शिबानी ने ‘जिंदा हूं मैं’ और ‘सजना आ भी जा’ जैसे मशहूर गीत गाए हैं.

दिल्ली में आगामी चार दिसंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. शिबानी ने भारतीय निर्वाचन आयोग के कुछ सदस्यों के साथ 23 नवंबर को दिल्ली विश्वविद्यालय क्षेत्र का दौरा किया और वादा किया कि यदि युवा मतदान में हिस्सा लेंगे, तो जल्द ही वह अगला कार्यक्रम आयोजित करेंगी.

शिबानी ने कहा, “भारतीय निर्वाचन आयोग और मैंने युवाओं को वचन दिया है कि यदि वे चार दिसंबर को मतदान में हिस्सा लेंगे तो धन्यवाद स्वरूप हम 15 दिसंबर को अगला कार्यक्रम आयोजित करेंगे.”

शिबानी चाहतीं तो कुछ खास राजनीतिक पार्टियों के प्रचार में हिस्सा ले सकती थीं, लेकिन इसके बदले उन्होंने युवाओं को अपना नेता चुनने के लिए प्रेरित करने का विकल्प चुना.

शिबानी ने कहा, “मुझे लगा कि किसी एक राजनीतिक पार्टी को समर्थन देने के बजाय एक अच्छा नागरिक, जिम्मेदार भारतीय और कुछ बेहद महत्वपूर्ण काम का प्रतीक बनकर सामने आना ज्यादा बेहतर है. लोगों को अपनी मर्जी से मतदान करने दें, मैं क्यों उनको बताऊं कि किसे अपना मत देना है.”

Tags: , ,