ओबामा केयर संकट में

Monday, October 7, 2013

A A

बराक ओबामा

वाशिंगटन | एजेंसी: शटडाउन को लेकर अमरीका में संकट गहराता जा रहा है. ओबामा केयर के मुद्दे को लेकर राष्ट्रपति ओबामा तथा रिपब्लिकनों के बीच कोई हल निकलता नही दिख रहा है.

देश की कर्ज सीमा बढ़ाने या सरकारी काम फिर से शुरू करने के लिए रिपब्लिकन रियायतों पर जोर दे रहे हैं. दूसरी ओर ओबामा प्रशासन ने उनके इस कदम को आग से खेलना करार दिया है.

पार्टी के कट्टरवादी सदस्यों के साथ खड़े हाउस के अध्यक्ष जॉन बोहनर ने रविवार को कहा कि बिना कर बढ़ाए खर्च में कटौती के मुद्दे पर राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ गंभीर चर्चा किए बगैर अपने रुख से पीछे नहीं हटेंगे.

अमरीकी शटडाउन के दूसरे सप्ताह में प्रवेश करने के साथ ही बोहनर ने कहा, “एक साफ कर्ज सीमा पारित करने के लिए हाउस में मतदान नहीं होता. राष्ट्रपति हमारे साथ बातचीत न करके ‘डिफाल्ट’ के खतरे को निमंत्रण दे रहे हैं.”

अमरीका 17 अक्टूबर को उधारी लेने की अपनी सीमा पार कर सकता है. वित्त मंत्री जैक लीव ने कहा कि अमरीकी सरकार को बिना सोचे कर्ज न चुकाने की स्थिति में डिफाल्टिंग के खतरे के लिए छोड़कर कांग्रेस आग से खेल रही है.

जैक लीव ने कहा, “हमने कभी नहीं सोचा था कि अमरीकी सरकार को बिना कर्ज लेने की क्षमता के चलाना पड़ेगा. यह बहुत खतरनाक है. यह लापरवाही है क्योंकि बिना कर्ज के सरकार चलाना अच्छा विकल्प नहीं है और हमारे पास नकदी का अभाव है.”

ज्ञात्वय रहें कि वर्ष 2011 के कर्ज संकट गतिरोध पर प्रशासन और कांग्रेस के बीच 20 खरब डॉलर की व्यय कटौती अगले एक दशक में करने पर समझौता हुआ था. उस समय डिफाल्ट की स्थिति टल गई थी लेकिन शीर्ष तीन रेटिंग हाउसों में एक स्टैंडर्ड एंड पुअर ने पहली बार अमरीका की क्रेडिट रेटिंग में कटौती की.

हाउस में रिपब्लिकनों का इरादा ओबामा की महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य बीमा योजना, जिसे ओबामाकेयर कहा जाता है, को खत्म करना या स्थगित करना है.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा चाहतें हैं कि करीब 60 लाख गरीबों को चिकित्सा मुहैया करवायी जाये. इसके लिये आम अमरीकी जनता पर टैक्स लगाया जाना है जिसका रिपब्लिकन विरोध कर रहें हैं. इसी टकराव के चलते अमरीकी कांग्रेस में गतिरोध उत्पन्न हो गया है.

Tags: , ,