सेतुसमुद्रम का हल निकालेंगे गडकरी

Sunday, August 17, 2014

A A

नितिन गडकरी

चेन्नई | एजेंसी: नितिन गडकरी शीघ्र ही तमिलनाडु जाएंगे और विभिन्न पक्षों से बातचीत कर सेतुसमुद्रम नौवहन नहर परियोजना के मुद्दे के सर्व स्वीकार्य समाधान तलाशने की कोशिश करेंगे. यह जानकारी शनिवार को अधिकारियों ने दी.

भारतीय जनता पार्टी ने इससे पहले इस परियोजना के मौजूदा स्वरूप पर विरोध जताया था. उस समय पार्टी के अध्यक्ष गडकरी थे. यहां तक कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने भी 2400 करोड़ की परियोजना को बेकार और लापरवाही वाला बताया था.

गडकरी इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित सागरमाला परियोजना पर भी बात करेंगे.

सागरमाला परियोजना में देश के 7500 किलोमीटर के समुद्र तटीय क्षेत्रों पर स्थित शहरों को जोड़ने, बंदगाहों के विकास, तटीय नौवहन सेवा, पर्यटन बुनियादी ढांचा और बंदरगाह शहरों एवं कस्बों को ध्यान में रखते हुए आंतरिक जल परिवहन का विकास शामिल है.

सेतुसमुद्रम परियोजना में भारत और श्रीलंका के बीच स्थित पालक की खाड़ी को नहर से जोड़ना है और इसकी राह में वह भौगोलिक संरचना है जिसे रामायण में वर्णित राम सेतु माना जाता है.

Tags: , , , , , , , , ,