स्तन कैंसर की दवा पेश

Sunday, January 19, 2014

A A

कैंसर

बेंगलुरू |एजेंसी: देश की प्रमुख जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोकॉन लिमिटेड ने मेटास्टैटिक स्तन कैंसर के इलाज के लिए एक नई दवा पेश की है. दवा का विकास कंपनी ने अमेरिकी फार्मा कंपनी मिलान के साथ मिलकर किया है. बायोकॉन की नई दवा कैनमाब भारत के रोगियों को इलाज का सस्ता विकल्प पेश करेगा.

कंपनी द्वारा रविवार को जारी बयान में कहा गया, “देश भर में हर साल स्तन कैंसर के 1.5 लाख नए रोगियों का पता चलता है.”

इलाज के लिए लक्षित उपचार के तौर पर यह दवा एचईआर2 जीन प्रोटीन उत्पादन के साथ प्रतिक्रिया करता है और कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोक देता है.

इसे इंजेक्शन के जरिए नस में प्रवाहित किया जाता है. रोगी की स्थिति के अनुसार इसे सप्ताह में एक बार या तीन सप्ताह में एक बार दिया जा सकता है.

दवा का उत्पादन यहां कंपनी के संयंत्र में किया जाएगा. दवा फरवरी की शुरुआत में बाजार में आ जाएगी और यह संदर्भ उत्पाद की तुलना में 25 फीसदी सस्ती होगी. संदर्भ उत्पाद, हरसेप्टिन की कीमत भारत में 19,500 रुपये प्रति सीसी है, हालांकि यह विकसित देशों के मुकाबले कम ही है.

Tags: , ,