नक्सलियों के दोस्त विद्याचरण शुक्ल !

Tuesday, May 28, 2013

A A

नक्सल छत्तीसगढ़

रायपुर | संवाददाता: क्या आप इस बात पर यकीन करेंगे कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेता विद्याचरण शुक्ल नक्सलियों के मित्र हैं ? कम से कम नक्सलियों के नाम पर बनाई गई फेसबुक प्रोफाइल तो यही बताती है. Naxal chattisgarh के नाम से फेस बुक पर बनाई गई इस प्रोफाइल के मित्रों की सूची में यूं तो 219 लोग शामिल हैं लेकिन इन 219 लोगों में कुछ नाम चौंकाने वाले हैं.

नक्सल छत्तीसगढ़ के मित्रो की सूची में कांग्रेस के वरिष्ट नेता विद्याचरण शुक्ल, पूर्व विधान सभा अध्यक्ष प्रेम प्रकाश पांडेय, छत्तीसगढ़ के भाजपा विधायक व संसदीय सचिव भैय्यालाल रजवाड़े, कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष सोमनाथ यादव के साथ-साथ रायगढ़ भाजपा भी शामिल है.

नक्सल छत्तीसगढ़ का यह फेसबुक अकाउंट 23 जनवरी 2013 को खोला गया है. जिसमें दो सौ से ऊपर मित्र हैं. इसमें नक्सल आंदोलन का जन्म कब और कैसे हुआ पूरा ब्यौरा दिया गया है. किस प्रकार 1967 में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी से अलग होकर नक्सलियो की मार्क्सवादी-लेनिनवादी पार्टी बनी. दस साल पहले माओवादी पार्टी का गठन हुआ, जैसी जानकारियां भी इस प्रोफाइल के पोस्ट में है.

इस अकाउंट में साफ साफ लिखा है कि वे नये पुराने हथियार खरीदना चाहते है. यदि कोई बेचना चाहता है तो संपर्क करे. इसके अलावा अफीम, हशीश, कोकीन, होरोईन तथा मारिजुआना का मूल्य भी अंकित है. इस प्रोफाइल के साथ नक्सली ट्रेनिंग, परेड, सभा के चित्र भी अपलोड किये गये हैं. अभी-अभी मारे गये छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नंदकुमार पटेल का भी इसमें जिक्र है.

इस फेसबुक प्रोफाइल में सरकार, एक खास जाति और एक संप्रदाय के लिये खुल कर गालियों का भी इस्तेमाल किया गया है. जाहिर है, जिन भाजपा-कांग्रेस नेताओं और विधायकों का नाम इस प्रोफाइल की मित्र सूची में है, वे सवालों के घेरे में हैं कि आखिर उन्होंने ऐसे संदिग्ध प्रोफाइल को अपना मित्र कैसे और किन उद्देश्यों के लिये बनाया है.

Tags: , , , ,