नारायणपुर में कुख्यात नक्सली गिरफ्तार

Thursday, March 27, 2014

A A

छत्तीसगढ़ नक्सली

नारायणपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में 44 जवानों एवं 2 ग्रामीणों की हत्या का आरोपी इनामी नक्सली कमांडर को पुलिस ने दस साल बाद धर दबोचा है. झाराघाटी पुलिस के द्वारा रोहताड से लगे खंडाला के जंगल में दबिश देकर कुख्यात नक्सली को पकड़ा है. 13 स्थायी वारंट पर लंबे समय से इसकी तलाश की जा रही थी.

एसडीओपी सीडी तिर्की ने बताया कि सोमवार को झारा थाना प्रभारी रोहित मालेकर के नेतृत्व में जिला बल एडीआरजी एवं सीएएफ की संयुक्त पार्टी एरिया डॉमिनेशन की कार्रवाई के लिए महिमागवाडी की ओर रवाना हुई थी.

सुरक्षाबलों के रोहताड पहुंचने के बाद उन्हें खंडाला के जंगल में कुख्यात नक्सली के होने की जानकारी मिली जिसके बाद जवान तत्काल पोजिशन लेते हुए खंडाला के जंगल की ओर बढने लगे. वहां पहुंचते ही संदिग्ध अवस्था में घूम रहे नक्सली धनसिंह कोर्राम उर्फ सुखदेव निवासी बडेंगहोल को गिरफ्तार किया गया.

उन्होंने बताया कि धनसिंह बयानार एलजीएस में उप कमांडर एवं कोंगेंरा मिलिशिया में कमांडर के रूप में कार्य कर रहा था. इस पर छोटेडोंगर एवं धौडाई थाना में दस-दस हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था.

वहीं अंतागढ, मदार्पाल, बयानार एवं कोंडागांव थाना में धनसिंह के खिलाफ अन्य मामले बताए जा रहे हैं. गिरफ्त में आए नक्सली द्वारा की गई बड़ी घटनाओं में 29 जून 2010 को कौशलनार के पास घात लगाकर 27 सीआरपीएफ के जवानों को शहीद करने एवं झाराकैंप पर हमला कर सीएएफ के पांच जवानों की हत्या करने का मामला चल रहा है.

इससे साथ ही अन्य दर्जनों मामले हैं जिसमें हत्या, हत्या का प्रयास, लूट-अपहरण-डकैती एवं शस्त्र अधिनियम के अपराध में संलिप्तता पाए जाने पर मामला कायम किया गया है. जिसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है.

Tags: , , ,