नक्सलियों ने बर्खास्त आरक्षक का गला रेता

Saturday, October 12, 2013

A A

मौत

नारायणपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के नारायणपुर के महिमागवाड़ी इलाके के निवासी बर्खास्त आरक्षक दिलीप शोरी की नक्सलियों ने गला रेतकर हत्या कर दी. नक्सलियों ने गुरुवार शाम पहले दिलीप शोरी को उसके घर से अगवा किया और फिर कौशलनार के जंगल इलाके में शाम को जनअदालत लगाकर उसे मौत के घाट उतार दिया.

बर्खास्त आरक्षक की हत्या करने के बाद नक्सलियों ने उसके शव को माहराबेड़ा के पास सड़क के बीचों-बीच फेंक दिया. घटनास्थल पर नक्सलियों ने दिलीप के शव के साथ एक पर्चा भी छोड़ा है जिसमें लिखा है कि आरक्षक दिलीप को कई बार चेतावनी देने के बावजूद उसके द्वारा पुलिस के लिए मुखबिरी का काम करना चालू है.

पत्र में लिखा है कि पुलिस मुखबिर होने की वजह से ही जनअदालत ने उसे मृत्युदंड की सज़ा दी है. नक्सलियों ने दिलीप की बाइक भी चुरा ली है.

इलाके की झारा पुलिस को घटना की जानकारी शुक्रवार को लगी जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय स्थित अस्पताल भिजवाया गया. शव के पोस्टमार्टम के बाद परिजन उसे अंतिम संस्कार के लिए गृहग्राम चले गये.

Tags: , ,