सलवा जुडूम को पुनर्जीवित करने की कोशिश- CPM

Wednesday, March 16, 2016

A A

माकपा

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ माकपा ने आरोप लगाया है कि बस्तर में शीर्ष न्यायालय द्वारा प्रतिबंधित सलवा-जुडूम को पुनर्जीवित करने की कोशिश की जा रही है. छत्तीसगढ़ माकपा के सचिव संजय पराते ने एक प्रेस विज्ञपप्ति में आरोप लगाया कि बस्तर में प्रशासनिक संरक्षण में सामाजिक एकता मंच के नाम पर संगठन को खड़ा किया गया है.

माकपा ने आरोप लगाया कि सामाजिक एकता मंच के नाम से खड़े किये गए संगठन के सदस्यों द्वारा जगदलपुर में लीगल ऐड ग्रुप के वकीलों, पत्रकारों व अन्य मानवाधिकार कार्यकर्ताओं पर हमला किया जा रहा है.

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों माकपा पोलित ब्यूरो सदस्य बृंदा करात ने भी मुख्यमंत्री रमनसिंह को पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने प्रशासनिक संरक्षण में सामाजिक एकता मंच के नाम से खड़े किये गए संगठन के सदस्यों द्वारा जगदलपुर में लीगल ऐड ग्रुप के वकीलों, पत्रकारों व अन्य मानवाधिकार कार्यकर्ताओं पर हमलों की ओर ध्यान खींचते हुए आदिवासी अधिकारों व मानवाधिकारों की रक्षा करने की अपील की थी.

माकपा राज्य सचिव संजय पराते ने कहा है कि प्राकृतिक संसाधनों की लूट को सुनिश्चित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा सलवा जुडूम को प्रतिबंधित किये जाने के बावजूद पुनः उसे पुनर्जीवित करने की कोशिश की जा रही है. बस्तर में सुरक्षा बलों द्वारा आदिवासी गांवों को सर्चिंग के नाम पर लूटने, महिलाओं के लैंगिक उत्पीड़न तथा निर्दोष आदिवासियों को झूठे मुकदमों में फंसाने या फर्जी मुठभेड़ों में मारे जाने की घटनाएं लगातार प्रकाश में आ रही है.

इसी कारण से बस्तर क्षेत्र में सुरक्षा बलों तथा प्रशासन द्वारा बड़े पैमाने पर किये जा रहे मानवाधिकारों के उल्लंघन, आदिवासियों तथा विशेषकर महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों की छानबीन करने के लिए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी का एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल गुरुवार से बस्तर के विभिन्न गांवों में दो दिनों तक दौरा करेगा तथा वहां के नागरिकों से बातचीत करेगा.

इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व माकपा के लोकसभा सदस्य तथा संसदीय दल के मुख्य सचेतक जीतेन्द्र चौधुरी तथा राज्यसभा सदस्य झरना दास वैद्य करेंगी.

प्रतिनिधिमंडल में पूर्व भाकपा विधायक मनीष कुंजाम, माकपा राज्य सचिव संजय पराते, सचिवमंडल सदस्य एमके नंदी, महिला कार्यकर्ता तापसी प्रहराज (ओड़िशा) व आशा लता (कर्नाटक), आदिवादी एकता महासभा के महासचिव बाल सिंह तथा विज्ञान कार्यकर्ता पीसी रथ शामिल रहेंगे.

माकपा प्रतिनिधिमंडल अपने दो दिनों के प्रवास में इन तमाम घटनाओं की छानबीन करेगा.

इस प्रतिनिधिमंडल के दौरे के संबंध में छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव को सूचित कर दिया गया है.

Tags: , , , , , ,