माउंटेनमैन मांझी की कहानी को आमिर का इंतजार

Monday, February 24, 2014

A A

दशरथ मांझी

पटना | एजेंसी:‘माउंटेन मैन’ के नाम से मशहूर बिहार के दशरथ मांझी के बेटे भगीरथ मांझी और बहू बसंती देवी को अभिनेता आमिर खान का इंतजार है, ताकि वे अपने परिवार की कहानी और दशा से आमिर को अवगत करा सकें. दशरथ वही शख्स हैं, जिन्होंने बिहार में अकेले ही एक पहाड़ खोदकर रास्ता बनाया था. आमिर अपने टीवी कार्यक्रम ‘सत्यमेव जयते’ के सिलसिले में बिहार दौरे पर आने वाले हैं.

भगीरथ और उनकी पत्नी बसंती देवी शारीरिक रूप से अपंग हैं और गया जिले के गहलौर के पास दशरथनगर दलित टोला में बेहद गरीबी और दयनीय हालातों में जीवन यापन कर रहे हैं.

आमिर के उनके गांव आकर मिलने के प्रस्ताव के बारे में जानकर भगीरथ ने क्षेत्रीय बोली मघई में कहा, “मैंने सुना कि एक हीरो हमारे गांव आ रहा है. हम उन्हें अपनी जिंदगी की दुख भरी असल कहानी सुनाएंगे.”

दशरथ ने गहलौर के पास एक पहाड़ को सिर्फ हथौड़े और छेनी की सहायता से अकेले ही काटकर 360 फीट लंबा, 30 फीट ऊंचा और 30 फीट चौड़ा रास्ता तैयार कर दिया था. साल 2007 में दशरथ की कैंसर से मौत हो गई.

गया जिले में अट्टारी और वजीरगंज प्रखंडों के बीच स्थित पहाड़ को काट देने से दोनों प्रखंडों के बीच की दूरी काफी कम हो गई. मांझी को पहाड़ काट कर रास्ता बनाने की धुन तब चढ़ी थी, जब एक बार उनकी पत्नी को चोट लग गई थी और पहाड़ी की दूसरी तरफ स्थित एकलौते अस्पताल तक घायल पत्नी को उपचार के लिए ले जाने में उन्हें पूरे पहाड़ का चक्कर लगाना पड़ा था.

भगीरथ की पत्नी बसंती ने कहा कि उन्हें दशरथ उर्फ ‘माउंटेन मैन’ की बहू होने पर गर्व है. उन्होंने कहा कि वह आमिर से आग्रह करेंगी कि उनकी असल कहानी को टीवी पर अपने कार्यक्रम में प्रसारित करें.

उन्होंने कहा, “हमें असहाय छोड़ दिया गया. अधिकारियों और नेताओं ने बार बार मदद का आश्वासन देने के बावजूद हमारी सुध भी न ली. राज्य सरकार और जिला प्रशासन ने भी हमारी अनदेखी की. किसी ने हमारी स्थिति सुधारने में सहायता नहीं की.”

भगीरथ और बसंती गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में मध्याह्न भोजन पकाने के काम में लगे हुए हैं. उन दोनों को इस काम के प्रति व्यक्ति 1,000 रुपये प्रतिमाह मिलते हैं, जिनसे उनका किसी तरह गुजारा होता है.

आमिर ने कहा कि वह अपने कार्यक्रम ‘सत्यमेव जयते’ का पहली कड़ी दशरथ को समर्पित करते हैं और बिहार के दशरथनगर जाकर उनके परिवार से मिलेंगे.

‘माउंटेन मैन’ को समर्पित ‘सत्यमेव जयते’ के दूसरे संस्करण की पहली कड़ी दो मार्च को प्रसारित होगी.

Tags: , , , , ,