पीएम बनने जनता की स्वीकार्यता जरूरी

Thursday, November 14, 2013

A A

सचिन पायलट

रायपुर | एजेंसी: केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री सचिन पायलट ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा.

सचिन पायलट ने कहा कि लोकतंत्र में कोई भी व्यक्ति प्रधानमंत्री पद तक पहुंच सकता है पर जनता के बीच स्वीकार्य होने के लिए व्यक्ति के भीतर आत्मीयता और सबको साथ लेकर चलने की क्षमता होना जरुरी है.

रायपुर में पत्रकारवार्ता को सम्बोधित करते हुए पायलट ने कहा कि कांग्रेस का मुकाबला महज आठ या दस राज्यों में ही भाजपा से है पर भाजपा का पूरे देश में कांग्रेस से मुकाबला है.

छत्तीसगढ़ में मोदी की सभा के विशेष प्रभाव के बारे में सचिन पायलट ने कहा कि मोदी की उम्मीदवारी का प्रभाव तो उसी दिन सामने आ गया था जिस दिन उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया गया था. उनके नाम की घोषणा होने के पहले ही कई दल भाजपा से अलग हो गए जबकि उनका नाम प्रधानमंत्री पद के लिए तय होते ही लालकृष्ण आडवाणी ने तमाम पदों से इस्तीफा दे दिया था.

उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति अपनी पार्टी और गठबंधन के दलों को साथ लेकर नहीं चल सकता उससे देश की अलग जाति, धर्म और भाषा वाले 121 करोड़ लोगों को साथ लेकर चलने की उम्मीद कैसे की जा सकती है ? महंगाई और भ्रष्टाचार के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि जिनपर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगे उनके खिलाफ कार्रवाई की गई और वे सलाखों के भीतर हैं.

महंगाई को देश के लिए बड़ी चुनौती बताते हुए सचिन पायलट ने कहा कि महंगाई से निपटने के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर प्रयास करना होगा. छत्तीसगढ़ सहित पांच राज्यों के चुनाव के संबंध में उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पक्ष में माहौल नजर आ रहा है.

राज्य सरकार के खिलाफ परिवर्तन का वातावरण है जिसका लाभ कांग्रेस को मिलेगा. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के नतीजे कांग्रेस के पक्ष में और चौंकाने वाले होंगे. अन्य राज्यों में भी उन्होंने कांग्रेस की सरकार बनने की संभावना जताई है. सचिन पायलट छत्तीसगढ़ में कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में दो दिनों तक प्रचार करने के बाद बुधवार को दिल्ली लौटे.