मोदी का ज्ञान बढ़ाएं मुरली मनोहर

Friday, November 22, 2013

A A

कपिल सिब्बल

भोपाल | एजेंसी: केंद्रीय दूरसंचार मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी को चाहिए कि वह मोदी का थोड़ा ज्ञान वर्धन करें. मध्य प्रदेश प्रवास पर आए सिब्बल ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि जिसे महात्मा गांधी का सही नाम तक नहीं पता और इतिहास का ज्ञान नहीं है, वह प्रधानमंत्री बनना चाहता है. वह देश के भविष्य पर चर्चा नहीं करते, बल्कि व्यक्तिगत आरोप लगाते हैं. हाल यह है कि वह अपने आप को इस देश का प्रधानमंत्री मान चुके हैं. यही कारण है कि वह कभी भी पत्रकारों के सामने आकर जवाब सवाल नहीं करते.

सिब्बल ने मोदी के साथ मध्य पदेश भाजपा के विज्ञापन पर भी सवाल उठाए और कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार को इतिहास का ज्ञान नहीं है, तो वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश की सरकार को भूगोल का ज्ञान नहीं है. यही कारण है कि वह अपने विज्ञापन में ईरान के खेत और विदेशी सड़क दिखाए जा रही है. लगता है कि वह दूसरे देशों की सीमाओं को अपना मानती है.

सिब्बल ने आगे कहा कि भाजपा झूठ की राजनीति कर रही है. मध्य प्रदेश में आयशर कंपनी का कारखाना कांग्रेस के तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के कार्यकाल में लगा था और आज उसे भाजपा अपनी उपलब्धि बता रही है. इतना ही नहीं भाजपा यह प्रचारित करने में लगी है कि संप्रग सरकार के कार्यकाल में देश बर्बाद हो गया है.

सिब्बल ने कहा कि देश में हर क्षेत्र में प्रगति हुई है, देश की अर्थव्यवस्था के प्रति दूसरे देशों का विश्वास बढ़ा है, यही कारण है कि निवेश बढ़ा है, आमदनी बढ़ी है, प्रति व्यक्ति आय में इजाफाा हुआ है. देश की आर्थिक स्थिति में सुधार का ही परिणाम है कि राज्य सरकारों के विकास के लिए ज्यादा पैसा दिया जाने लगा है.

सिब्बल ने मध्य प्रदेश की बदहाली के लिए प्रदेश की भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश हर मामले में देश के अन्य राज्यों से पिछड़ा हुआ है. कुपोषण बढ़ रहा है, मातृ मृत्युदर बढ़ रही है, महिलाओं पर अत्याचार बढ़े हैं. दावा सभी को बिजली दिए जाने के हो रहे हैं, मगर हकीकत इससे अलग है, प्रदेश में एक बड़ा वर्ग है जो बिजली से अछूता है, पीने का पानी नहीं मिल रहा.

सिब्बल ने कहा कि भाजपा बात तो पारदर्शिता की करती है मगर राज्य के कई मंत्रियों के खिलाफ लोकायुक्त में मामले दर्ज है, सरकार ने लोकायुक्त को सहयोग नहीं किया.

Tags: , , ,