EPF के ब्याज दर में कटौती

Tuesday, April 26, 2016

A A

बंडारू दत्तात्रेय-श्रम मंत्री

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने बताया ईपीएफ के ब्याज दर में मामूली कमी की गई है. श्रम मंत्री ने सदन को बताया कि इसके दायरे को बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है. जिसके तहत किसी संस्थान में न्यूनतम 20 की जगह 10 कर्मचारी होने पर भी उसे ईपीएफ के दायरे में लाया जायेगा. केंद्र सरकार ने कर्मचारी भविष्य निधि योजना की ब्याज दर 2015-16 के लिए 8.7 फीसदी कर दी है, जिसके लिए 8.8 फीसदी दर की सिफारिश की गई थी. यह जानकारी केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने सोमवार का लोकसभा में एक सवाल के जवाब में दी.

मंत्री ने कहा कि ईपीएफ के केंद्रीय ट्रस्टी बोर्ड ने 16 फरवरी को हुई 211वीं बैठक में 2015-16 के लिए 8.8 फीसदी दर का प्रस्ताव रखा था.

मंत्री ने बताया कि वित्त मंत्रालय ने हालांकि 8.7 फीसदी दर को ही स्वीकृति दी.

मंत्री ने भारतीय जनता पार्टी के सांसद सी.आर. चौधरी और ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम के पी. नागार्जुन के सवाल के जवाब में यह जानकारी दी.

मंत्री ने यह भी बताया कि भविष्य निधि से संबंधित अधिनियम में व्यापक संशोधन के एक प्रस्ताव पर भी विचार किया जा रहा है, जिसमें योजना के दायरे में आने के लिए कंपनियों की न्यूनतम कर्मचारी संख्या को 20 से घटाकर 10 करने का प्रस्ताव है.

Tags: , ,