माइक्रोसॉफ्ट सीईओ नडेला ने किया बदलाव का आह्वान

Wednesday, February 5, 2014

A A

सत्या नडेला

वॉशिंगटन | एजेंसी: माइक्रोसॉफ्ट के नए मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सत्या नडेला ने पद ग्रहण करने के तुरंत बाद कंपनी के कर्मचारियों को एक मेल भेजकर उनसे इन्नोवेशन एवं सांस्कृतिक बदलाव को प्राथमिकता देने की अपील की.

मूल रूप से हैदराबादी नडेला ने कर्मचारियों को लिखे गए पत्र में कहा, “हमने अब तक महत्वपूर्ण उपलब्ध्यिां हासिल की हैं और इससे भी बड़ा करना चाहते हैं.” माइक्रोसॉफ्ट के 39 साल के इतिहास में नडेला तीसरे सीईओ हैं. मंगलवार को उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टीव बाल्मर की जगह ली. कंपनी के सह-संस्थापक बिल गेट्स ने भी ‘प्रौद्योगिकी सलाहकार’ की नई भूमिका ली है.

नडेला ने लिखा, “हमारा उद्योग परंपराओं को नहीं मानता है, यह सिर्फ इन्नोवेशन को सम्मान देता है. यह उद्योग जगत और माइक्रोसॉफ्ट दोनों के लिए ही बेहद महत्वपूर्ण समय है.” 22 सालों से माइक्रोसाफ्ट को सेवा दे रहे नडेला इससे पहले कंपनी के क्लाउड एंड एंटरप्राइज ग्रुप के प्रमुख थे.

तीन बच्चों के पिता नडेला ने लिखा, “अपने बारे में कुछ कहूं तो जो लोग मुझे जानते हैं, वे कहते हैं कि मैं सीखने और जानने के लिए हमेशा बेताब रहता हूं.”

उन्होंने लिखा, “मैं उतनी किताबें खरीद लेता हूं, जितना पढ़ नहीं पाता हूं. उतने ऑनलाइन कोर्स में दाखिला ले लेता हूं जितना पूरा नहीं कर पाता हूं. मेरा मानना है कि यदि आप नई चीजें नहीं सीख रहे हैं, तो आप महत्वपूर्ण और काम की चीजें नहीं कर रहे हैं. मेरी जिज्ञासा, सीखने, जानने की मेरी इच्छा ही मेरे व्यक्तित्व को परिभाषित करती हैं.”

नडेला ने कहा कि वह माइक्रोसाफ्ट में इसलिए हैं, जिस कारण से ज्यादातर लोग माइक्रोसॉफ्ट से जुड़ते हैं. वह कारण है प्रद्यौगिकी के माध्यम से दुनिया में नए बदलाव लाना और लोगों को नई उपलब्धियां हासिल करने के योग्या बनाना. उन्होंने लिखा, “मैं यहां हूं, क्योंकि हमारे पास बदलाव लाने की अद्वितीय क्षमता है.”

नडेला ने बेगमपेट में हैदराबाद पब्लिक स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा हासिल करने के बाद मणिपाल विश्वविद्यालय से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में इंजिनियरिंग में स्नातक डिग्री हासिल की. उसके बाद वे अमेरिका चले गए थे.

इधर, वाल स्ट्रीट जर्नल ने संदेह व्यक्त किया कि कंपनी में बिल गेट्स की प्रौद्योगिकी सलाहकार के रूप में वापसी से यह सवाल उठता है कि क्या व्यवसाय की नई चुनौतियों में कंपनी की प्रतिक्रियाएं और रणनीति तय करने के निर्णयों में नडेला पूरी तरह स्वतंत्र होगें.

Tags: , , ,