मेंथॉल सिगरेट की लत

Saturday, June 21, 2014

A A

मेंथॉल सिगरेट

टोरंटो | एजेंसी: इन दिनों मेंथॉल सिगरेट का आकर्षण युवाओं में बढ़ता चला जा रहा है. जबकि यह किसी भी तरह से आम सिगरेट से कम हानिकारक नहीं है. इसमें मौजूद मेंथॉल की गंध अलग से अपना प्रभाव छोड़ती है. कई बार तो युवा मेंथॉल की गंध से आकर्षित होकर इसका सेवन शुरु कर देते हैं.

कनाडा स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ वाटरलू के एक वैज्ञानिक सनडे अजाग्बा ने कहा, “युवाओं के बीच मेंथाल सिगरेट का आकर्षण इसलिए है कि क्योंकि उन्हें लगता है कि यह अन्य सिगरेट से कम हानिकारक है.”

अजाग्बा ने कहा कि पुदीने का स्वाद हानिकारक तत्वों के मास्क का काम करता है, लेकिन सच्चाई यह है कि यह अन्य बिना सुगंध वाले सिगरेट जितना ही हानिकारक होता है.

कनाडा के युवाओं में धूम्रपान की आदतों पर किए गए अध्ययन में देखा गया है कि सामान्य सिगरेट पीने वालों की अपेक्षा मेंथॉल सिगरेट का सेवन करने वाले तीन गुना लोग अगले साल भी सिगरेट पीना जारी रखने की बात करते हैं.

अजाग्बा कहते हैं, “यह चिंता का विषय है कि युवाओं के बीच मेंथॉल सिगरेट लोकप्रिय हो रही है. युवाओं को धूम्रपान से दूर रखना उनकी प्रगति में बाधक बन सकता है. कुछ युवा इतने लती हैं कि वे इसके बगैर कोई काम ही नहीं कर सकते. कई युवा बिना सुगंध वाले ब्रांड की अपेक्षा मेंथॉल का सेवन बड़े चाव से करते हैं.”

Tags: , , ,