मनमोहन ने कहा था 100 दिनों में काला धन वापस!

Friday, November 28, 2014

A A

वैंकया नायडू

नई दिल्ली | एजेंसी: संसद में काले धन पर चर्चा के समय भाजपा के मंत्री नायडू ने कहा कि 100 दिनों में काला धन वापस लाने की बात मनमोहन सिंह ने कही थी. उन्होंने इस बात से इंकार किया कि भाजपा के घोषणा पत्र में ऐसा कोई वादा किया गया था. मामला चकित कर देने वाला है और वह भी संसद में मंत्री के बयान के रूप में सामने आया है. काला धन मुद्दे पर लोकसभा में विपक्ष ने लगातार दूसरे दिन सरकार को घेरा और विदेशी बैंकों में जमा काले धन को वापस भारत लाने के लिए समय सीमा की मांग की. वहीं केंद्र सरकार ने इस मुद्दे पर विपक्ष को जवाब देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के घोषणा पत्र में इस तरह का वादा नहीं किया गया था, बल्कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने ही काले धन को 100 दिनों में वापस लाने का वादा किया.

चर्चा में हिस्सा लेते हुए समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने कहा, “देश की जनता ने आप पर विश्वास किया. चुनाव अभियान के दौरान आपने लोगों से वादा किया और उस वादे पर लोगों ने भरोसा कर आपको चुना. लेकिन सरकार बनाने के बाद इस मुद्दे पर कुछ भी नहीं हुआ.”

उन्होंने कहा, “क्या इस सरकार ने यह जानने की कभी कोशिश की है कि पैसा गया कहां.”

मुलायम ने कहा, “काला धन वापस कब आएगा और लोगों को सजा कब मिलेगी? सरकार को समय सीमा बतानी चाहिए.”

उन्होंने जोर देकर कहा कि काला धन वापस लाए जाने की स्थिति में लोग अपने खाते में 15 लाख रुपये जमा होने का इंतजार कर रहे हैं. “आपने आखिर वादा क्यों किया?”

बहस में हस्तक्षेप करते हुए संसदीय मामलों के मंत्री एम.वेंकैया नायडू ने कहा, “100 दिनों में काले धन को वापस लाने का वादा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने कार्यकाल में सदन में एक सवाल का जवाब देने के दौरान किया था.”

दुर्भाग्यवश लोग इसपर विश्वास नहीं करते और उन्हें लगता है कि यह वादा भाजपा ने किया था.

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इस मुद्दे को उठाया है.”

नायडू ने कहा कि खाताधारकों के नामों का खुलासा जांच तथा आरोप पत्र दाखिल करने के बाद ही किया जाएगा.

लोकसभा में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि चुनावी घोषणापत्र में इस मुद्दे का भले ही उल्लेख नहीं था, लेकिन राजनाथ सिंह सहित कई वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने चुनावी अभियान के दौरान इस मुद्दे को कई बार उठाया.

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी नेता मोहम्मद सलीम ने कहा, “यह बेहद गंभीर मामला है. विशेष जांच दल ने अभी शुरुआत ही की है. संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन तथा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन दोनों ही इस मुद्दे पर एक ही भाषा बोल रही है. लोगों से झूठा वादा करना भी भ्रष्टाचार है.”

Tags: , , , , , , , , ,