मंगला एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 3 मरे

Friday, November 15, 2013

A A

ट्रेन हादसा

नासिक | एजेंसी: महाराष्ट्र में नासिक के नजदीक निजामुद्दीन-एर्नाकुलम मंगला लक्षद्वीप एक्सप्रेस के 10 डिब्बे शुक्रवार सुबह पटरी से उतर गए, जिसके कारण तीन यात्रियों की मौत हो गई और 30 यात्री घायल हो गए. यह जानकारी अधिकारियों ने दी है.

यह दुर्घटना मुंबई से 200 किलोमीटर दूर नासिक जिले के पश्चिमी घाट की दुर्गम एवं घुमावदार पर्वतीय मार्ग से गुजरते हुए घोटी और इगतपुरी रेलवे स्टेशनों के बीच शुक्रवार सुबह लगभग 6.30 बजे हुई.

मध्य रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि दुर्घटना में तीन यात्रियों की मौत हो गई, जबकि 30 अन्य यात्री घायल हो गए. इनमें से कुछ यात्रियों को मामूली चोटें आई हैं.

पटरी से उतरने वाले डिब्बों में एस-8, एस-9, एस-10, एस-11, बी-1, बी-2, बी-3, ए-1, जीएस-1 और एसएलआर शामिल हैं. ये डिब्बे बगल वाली पटरी पर गिर गए, जिसके कारण मुंबई-कोलकाता रेल यातायात ठप हो गया.

दुर्घटना के थोड़ी ही देर बाद मध्य रेलवे ने दुर्घटना पीड़ितों के लिए बचाव एवं राहत अभियान शुरू कर दिया, और पीड़ितों के परिजनों को इसकी सूचना दे दी.

घायलों को इगतपुरी, घोटी और नासिक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया, और दुर्घटनास्थल पर फंसे 450 यात्रियों को इगतपुरी ले जाने के लिए 10 बसों की व्यवस्था की गई.

एक अधिकारी ने बताया कि अपराह्न लगभग 12.30 बजे यात्रियों को इगतपुरी स्टेशन से एर्नाकुलम की ओर अपने गंतव्य स्थलों पर ले जाने के लिए 22 डिब्बों वाली एक विशेष रेल की व्यवस्था की गई.

दुर्घटना के घंटों बाद भी मृतकों की संख्या को लेकर भ्रम की स्थिति बनी रही. मध्य रेलवे ने जहां दुर्घटना में तीन यात्रियों के मरने की पुष्टि की है, वहीं स्थानीय बचाव कर्मियों ने चार के मरने की बात कही, तो दूसरी ओर प्रत्यक्षदर्शियों का दावा है कि आठ यात्रियों की मौत हुई है.

रेल पटरी से उतर जाने के कारण कई रेलगाड़ियां रद्द करनी पड़ीं, जिनमें मुंबई-मनमाड राज्यरानी एक्सप्रेस, मुंबई-मनमाड पंचवटी एक्सप्रेस, मुंबई-भुसावल पैसेंजर रेलगाड़ी और नांदेड़-मुंबई तपोवन एक्प्रेस शामिल हैं.

कुल सात रेलगाड़िया रद्द कर दी गईं. मुंबई-नांदेड़ तपोवन एक्सप्रेस को बीच रास्ते में ठाणे जिले में रद्द करना पड़ा.

इसके अलावा देश के विभिन्न हिस्सों जैसे हावड़ा, वाराणसी, लखनऊ, गुवाहाटी, रांची, नागपुर, राजेंद्रनगर और भुवनेश्वर से आने-जाने वाली 11 अन्य रेलगाड़ियों को दूसरे मार्गो से चलाना पड़ा.

मध्य रेलवे के अधिकारियों ने उम्मीद जताई है कि दुर्घटना से प्रभावति रेलमार्ग पर यातायात शुक्रवार शाम तक बहाल हो जाएगा.

Tags: ,