महोबा में मोरों का शिकार

Saturday, August 3, 2013

A A

मोर का शिकार

बांदा | एजेंसी: उत्तर प्रदेश में महोबा जिले के महोबकंठ थानांतर्गत भूरा तुड़र गांव में शुक्रवार को पांच मोरों का शिकार करने वालों का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है. इस घटना को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है.

ज्ञात्वय रहे कि मोर हमारा राष्ट्रीय पक्षी है तथा इसका शिकार करना प्रतिबंधित है. इसके बावजूद चोरी-छिपे इनका शिकार जारी है.

पुलिस का कहना है कि शिकारियों का पता लगाया जा रहा है. भूरा तुड़र गांव के पुलिस मित्र सतीश ने बताया कि शुक्रवार दोपहर गांव से सटे पहाड़ पर एक दर्जन मोर-मोरनी विचरण कर रहे थे. उसी समय कुछ शिकारियों ने वहां पहुंच कर उन पर गोलियां चला दी, जिससे पांच मोरों की मौके पर मौत हो गई, और एक मोर घायल अवस्था में बस्ती में जा गिरा.

सतीश ने बताया कि घायल मोर का इलाज करा कर पुलिस ने इसे वन विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया है, लेकिन शिकारियों का अभी तक पता नहीं लग पाया है. इससे ग्रामीणों में पुलिस के खिलाफ आक्रोश है.

महोबकंठ के थानाध्यक्ष का कहना है कि एक वनकर्मी की शिकायत पर छह अज्ञात शिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है.

Tags: , , ,