विधायक विमल चोपड़ा अनशन पर

Thursday, February 20, 2014

A A

विमल चोपड़ा

महासमुंद | संवाददाता: शराब ठेकेदार के कर्मचारियों को कथित पुलिसिया संरक्ष‡ण के विरोध में महासमुंद के निर्दलीय विधायक डॉक्टर विमल चोपड़ा अनशन पर चले गए हैं. श्री चोपड़ा का अपने समर्थकों के साथ आमरण अनशन बुधवार दोपहर को शुरू हो चुका है और अनशन के पहले दिन भारी तादात में चोपड़ा समर्थकों ने धरना दिया.

ज्ञात हो कि पिछले दिनों विधायक डाक्टर विमल चोपड़ा तथा उनके दो समर्थकों पर शराब ठेकेदार के कर्मचारियों द्वारा जानलेवा हमला किया गया था. इसके विरोध में विधानसभा से लौटते ही बुधवार दोपहर 3.30 बजे डॉक्टर चोपड़ा का अनशन शुरू हुआ.

सू˜त्रों से पता चला है कि कल देर रात तक धरना स्थल पर मिलने जिले के कोई भी अधिकार नहीं पहुंचे थे. लिहाजा धरना स्थल पर ही इ‹न्होंने रात बिताई. डॉक्टर विमल चोपडा़ ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि शराब के ठेकेदारों द्वारा की गई झूठी रिपोर्ट पर पुलिस प्रशासन चंद ƒघंटे में ही प्राथमिकी दर्ज कराती है, जबकि इसके विपरीत उनकी रिपोर्ट पर किसी भी प्रकार की कार्र वाई नहीं होती, जो पुलिस को फायदा नहीं पहुंचाते हैं.

शराब के ठेकेदारों को, उनके लठैतों को महज नाममात्र के लिए खानापूर्ति करने के लिये कुछ ही देर के लिए थाने में बिठाया जाता है और उनसे लेन-देन कर मामला रफा-दफा कर दिया जाता है. जबकि लठैतों के खिलाफ धारा 307 दर्ज किया जाना चाहिए.

उन्होने कहा कि विधानसभा में ध्Šयान आकर्ष‡ण के दौरान विधानसभा में भी यह मामला उठाया गया, जिसमें पक्ष और विपक्ष दोनों के सदस्यों ने सदन का बहिष्कार किया. इनका कहना है कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाती, आमरणा अनशन जारी रहेगा.

डाक्टर चोपड़ा की मांग है कि उनके समर्थकों के खिलाफ दर्ज मामले खˆम हो, सब इंस्पेक्टर शर्मा को निलंबित किया जाय तथा शराब की लाइसेंसी दुकान 10 बजे खुले और निर्धारित समय पर बंद हो जाए औऱ सभी शराब दुकानों पर सीसी कैमरे लगाये जाये.

Tags: , , ,