इंदौर में साधु-संत पड़े pk के पीछे

Sunday, January 4, 2015

A A

फिल्म 'पीके'

इंदौर | एजेंसी: मध्य प्रदेश के इंदौर में साधु-संतों के एक दल ने रविवार को ‘पीके’ फिल्म देखी और सिनमाहॉल से निकले ही इस पर पाबंदी लगाने की मांग की. साधु-संतों का कहना है कि इस फिल्म में हिंदू धर्म के खिलाफ टीका-टिप्पणी की गई है. यह भावना को ठेस पहुंचाने वाली है. इस फिल्म के खिलाफ मध्य प्रदेश के अन्य शहरों में भी विरोध प्रदर्शन हो चुका है. इंदौर के साधु-संतों ने फिल्म पर किसी तरह की राय जाहिर करने से पहले रविवार को फिल्म देखने का फैसला किया.

टेजर आयरलैंड मॉल के पीवीआर में रविवार को 40 से अधिक साधु-संतों के दल ने फिल्म देखी. फिल्म देखने के बाद वे गुस्से में थे.

इनमें से एक कंप्यूटर बाबा का कहना है कि इस फिल्म में सिर्फ हिंदू धर्म पर टीका टिप्पणी की गई है. लिहाजा इस फिल्म पर पाबंदी लगाई जानी चाहिए. यह फिल्म धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली है. उन्होंने कहा कि वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन भी सौंपेंगे.

वहीं पंचकुइयां के लक्ष्मण दास का कहना है कि साधु-संतों की एक बैठक होगी और उसके बाद ही वे अगली रणनीति तय करेंगे. फिल्म देखकर बाहर निकले साधु-संतों के दल ने नारेबाजी भी की.

गौरतलब है कि इस फिल्म को देखने वाले अधिकांश लोगों का कहना है कि इस फिल्म में सिर्फ हिंदू धर्म पर टीका-टिप्पणी नहीं है, बल्कि एक अन्य ग्रह से भारत की जमीं पर उतरा एलियन मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा और चर्च जाता है. उसे सबकुछ अजूबा लगता है. उसे हर धर्म में कुछ न कुछ बुराइयां नजर आती हैं. उसका व्यंग्य-बाण सिर्फ हिंदू धर्म पर नहीं चला है. आपत्ति तो हर धर्म के लोगों को होनी चाहिए.

Tags: , , , , , , ,