बड़वानी नेत्र शिविर के चिकित्सक निलंबित

Saturday, December 5, 2015

A A

सर्जरी

बड़वानी | समाचार डेस्क: मध्य प्रदेश में 37 मरीजों में ऑपरेशन के बाद संक्रमण होने पर एक चिकित्सक को निलंबित कर दिया गया है. मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में बीते माह आयोजित नेत्र शिविर में किए गए ऑपरेशन के बाद 37 मरीजों की आंखों में संक्रमण होने के मामले में चिकित्सक सहित छह कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है. जिन मरीजों की आंखों में संक्रमण है, उनमें से बड़ी संख्या में ऐसे हैं, जिन्हें साफ दिखाई नहीं दे रहा.

गौरतलब है कि बड़वानी में नंवबर माह में आयोजित नेत्र शिविर में 86 मरीजों के ऑपरेशन हुए थे. इनमें से 37 मरीजों को संक्रमण हुआ है और उन्हें उपचार के लिए इंदौर के अरविंदो व एमवायएच अस्पताल भेजा गया, जहां उनका इलाज चल रहा है. 37 में से अधिकांश मरीज ऐसे हैं, जिन्हें अब भी साफ दिखाई नहीं दे रहा.

आधिकारिक तौर पर जारी बयान में बताया गया है कि राज्य प्रशासन ने शुक्रवार की रात एक आदेश जारी कर बड़वानी जिले में नेत्र शिविर में लापरवाही बरते जाने पर नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. आर.एस. पलोड को निलंबित कर दिया है.

मोतियाबिन्द के ऑपरेशन के बाद रोगियों में संक्रमण के लिए नेत्र सहायक प्रदीप चौकडे, स्टाफ नर्स लीला वर्मा, सुश्री माया चौहान, विनीता चौकसे और शबाना मंसूरी को भी निलम्बित करने के आदेश दिए गए हैं.

ऑपरेशन के बाद आंखों में संक्रमण होने की बात सामने आने पर स्वास्थ्य विभाग ने जांच के लिए चार सदस्यीय समिति बनाई है, जबकि बड़वानी अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर को सील कर दिया गया है. यहां उपयोग में लाई गई दवाओं का परीक्षण कराया जा रहा है.

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी मरीजों के बेहतर इलाज के निर्देश दिए हैं.

Tags: , , ,