‘गांधी आत्महत्या योजना’ वाली का तबादला

Friday, June 24, 2016

A A

अमिता सिंह-तहसीलदार

भोपाल | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी को ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ की सलाह देने वाली मध्यप्रदेश की तहसीलदार का तबादला हो गया है. फेसबुक पर पूर्व प्रधानमंत्री व दिवंगत कांग्रेस नेता के नाम पर ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ शुरू करने संबंधी पोस्ट से विवादों में घिरी रतलाम की तहसीलदार अनीता सिंह तोमर का तबादला कर दिया गया है. तबादला आदेश बुधवार की देर शाम को जारी हुआ.

अब तहसीलदार का विवादित FB पोस्ट

ज्ञात हो कि रतलाम जिले के रावटी क्षेत्र की तहसीलदार अनीता सिंह तोमर ने छह जून को अपनी फेसबुक पर एक पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सलाह दी थी कि वे राजीव गांधी आत्महत्या योजना शुरू करें.

उन्होंने फेसबुक वाल पर लिखा था कि ‘प्रधानमंत्री अफगानिस्तान गए तो वहां मुसलमानों ने भारत के झंडे लेकर सड़क पर ‘वंदेमातरम्’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए, इसलिए प्रधानमंत्री से अनुरोध है कि वे राजीव गांधी आत्महत्या योजना शुरू करें, ताकि कांग्रेसी विचार और अन्य सेक्युलर लोग ऐसी बातें सुनकर आत्महत्या कर सकें.’

तहसीलदार के इस पोस्ट पर प्रदेश में कई लोगों ने सवाल उठाए, इसके बाद इस मामले पर तहसीलदार तोमर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया, इस पर उनकी ओर से जवाब दिया गया.

जिलाधिकारी कार्यालय से गुरुवार को तहसीलदार के तबादले की पुष्टि करते हुए कहा कि बुधवार की देर शाम को तोमर के तबादले का आदेश आया है. उन्हें राजगढ़ स्थानांतरित किया गया है.

इससे पहले बड़वानी के जिलाधिकारी रहते हुए अजय सिंह गंगवार ने फेसबुक पर जवाहर लाल नेहरू की तरीफ की थी, जिस पर उन्हें पद से हटा दिया गया था.

नेहरु की तारीफ कर नपे कलेक्टर

इसके अलावा नरसिंहपुर के जिलाधिकारी सी.बी. चक्रवर्ती को कारण बताओ नोटिस सिर्फ इसलिए दिया गया, क्योंकि उन्होंने तामिलनाडु की मुख्यमंत्री बनने पर जयललिता को सोशल मीडिया पर बधाई दी थी.

Tags: , , , , ,