अमरीका में भारी हिमपात से जन जीवन प्रभावित

Thursday, January 29, 2015

A A

अमरीका में बर्फबारी

वाशिंगटन | एजेंसी: अमरीका के पूर्वी तट पर आये बर्फीले तूफान से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है तथा लाखों लोग इससे प्रभावित हुए हैं. उल्लेखनीय है कि अमरीकी मौसम विभाग ने जितनी क्षति के प्रति आगाह किया था उतनी क्षति नहीं हुई है. हालांकि, इन बर्फीले तूफानों के चलते 5,000 से भी ज्यादा उड़ाने प्रभावित हुई हैं. अमरीका के पूर्वोत्तर तट पर सोमवार शाम आए बर्फीले तूफान का प्रभाव मंगलवार को भी बना हुआ है. पूर्वोत्तर स्थित न्यूयार्क शहर, बोस्टन, फिलाडेल्फिया और अन्य महानगरों के लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयार्क राज्य के पूर्वी लांग आईलैंड, कनेक्टिकट राज्य, रोड आईलैंड और मेसाचुसेट्स में मंगलवार दोपहर को भी इसका असर बरकरार रहा.

अमरीका के राष्ट्रीय मौसम सेवा के अनुमानों में बताया गया है कि बोस्टन और मेसाचुसेट्स में बुधवार सुबह तक ऐसे ही मौसम बने रहने के आसार हैं, जहां अब तक करीब 50 सेंटीमीटर हिमपात हुआ है.

इस बीच देश के मौसम विज्ञानियों ने मंगलवार को अपने गलत आकलन के लिए माफी मांगी है. उन्होंने इस तथाकथित ‘सदी के तूफान’ से भारी क्षति की आशंका जाहिर की थी, जबकि इसकी तीव्रता उतनी अधिक नहीं रही.

मौसम विभाग ने न्यूयार्क में 91.44 सेंटीमीटर हिमपात के आसार जताए थे, जिसके बाद अधिकारियों ने सभी स्कूलों को बंद करा दिए, उड़ानें रद्द कर दी गईं और राज्यभर में परिवहन पर भी रोक लगा दी गई. लेकिन न्यूयार्क, न्यूजर्सी और पेनिसिलवेनिया के कुछ हिस्से में उतनी ही तीव्रता के साथ बर्फीली आंधी नहीं चली, जैसा अनुमान मौसम वैज्ञानिकों ने जताया था.

न्यूयार्क में सिर्फ 15.24 सेंटीमीटर हिमपात हुआ है, जो कि 2006 के 68.33 सेंटीमीटर से काफी कम है.

न्यूयार्क, न्यूजर्सी और कनेक्टिकट के गवर्नरों ने एक दिन पहले लगे यातायात पर प्रतिबंध को हटा दिया और न्यूयार्क के सबवे में भी 10 घंटे के बाद यातायात शुरू कर दिया गया, लेकिन अधिकारियों ने लोगों से बर्फ से ढकी सड़कों से दूर रहने को कहा है.

इधर, बोस्टन में तूफान के पहले दिन से ही सबवे बंद है, जहां शहर के कुछ हिस्सों में अब भी बर्फ की चादर फैली हुई है.

Tags: , , , , ,