ललित मोदी आजीवन प्रतिबंधित

Wednesday, September 25, 2013

A A

ललित मोदी

चेन्नई | एजेंसी: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बुधवार को विशेष आम बैठक में इंडियन प्रीमियर लीग के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी की सदस्यता खत्म कर दी. गौर तलब है कि बोर्ड ने ललित मोदी पर आजीवन प्रतिबंध लगाने का फैसला किया.

ज्ञात्वय रहे कि ललित मोदी 2008 से 2010 तक आईपीएल के कमिश्नर रहे और इस दौरान उन पर गलत तरीके से धन बनाने का आरोप लगा है. वह गिरफ्तारी से बचने के लिए लंदन में रह रहे हैं. उनकी देखरेख में आईपीएल विश्व का सबसे प्रभावशाली और सफल क्रिकेट लीग बनकर उभरा.

ललित मोदी ने बुधवार को सर्वोच्च न्यायालय से उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए होने वाली इस बैठक पर रोक लगाने की अपील की थी लेकिन न्यायालय ने इसे खारिज कर दिया.

सर्वोच्च न्यायालय ने ही मंगलवार को बीसीसीआई को ललित मोदी से जुड़े मामलों पर चर्चा के लिए विशेष बैठक करने की अनुमति प्रदान की थी.

ललित मोदी की याचिका पर न्यायालय के फैसले के तुरंत बाद दोपहर दो बजे यह बैठक शुरू हुई और आनन-फानन में ललित मोदी की सदस्यता भंग करने का प्रस्ताव पारित कर दिया गया. बीसीसीआई के मुताबिक ललित मोदी के खिलाफ अनुशासनहीनता और अनियमितता के आरोप साबित हुए हैं.

हरियाणा क्रिकेट संघ के सचिव अनिरुद्ध चौधरी ने ललित मोदी को निलंबित करने का प्रस्ताव रखा, जिसका समर्थन उड़ीसा क्रिकेट संघ के प्रमुख रंजीब बिस्वाल ने भी समर्थन किया. बोर्ड के इस फैसले के बाद ललित मोदी अब बोर्ड मे किसी प्रकार का पद ग्रहण नहीं कर सकेंगे.

बीसीसीआई सचिव संजय पटेल ने अपने बयान में कहा, “मोदी को गम्भीर किस्म की अनुशासनहीनता और अनियमितता बरतने का दोषी पाया गया है. इस तरह बोर्ड ने मेमोरेंडम एंड रूल्स एंड रेग्यूलेशंस की धारा 32 के तहत मोदी की सदस्यता समाप्त कर दी है.”

“वह एक क्रिकेट प्रशासक का सारा अधिकार खो चुके हैं. वह भविष्य में बोर्ड से जुड़ा कोई भी पद ग्रहण नहीं कर सकेंगे. साथ ही साथ वह बोर्ड की किसी भी समिति या भी सम्बद्ध समिति का सदस्य नहीं बन सकेंगे.”

Tags: , ,