लापता सेवानृवित्त तहसीलदार का शव मिला

Saturday, August 24, 2013

A A

मौत

कोरबा | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में कोरबा जिले के बांगो थानांतर्गत चोटिया के पास झोरकी नाले में बिलासपुर से लापता सेवानृवित्त तहसीलदार मनोहर गायकवाड़ (64) का शव पाया गया है. तहसीलदार के भाई प्रकाश राव गढ़ेवाल ने शव की शिनाख्ती की है. तहसीलदार की गुमशुदगी मामले में बिलासपुर क्राइम ब्रांच पुलिस ने गुरुवार को दीपका से दो ड्राइवर व दो हेल्पर को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी.

रविवार से लापता हुए रिटायर्ड तहसीलदार मनोहर गायकवाड़ (64) का गुरुवार दोपहर तक कोई सुराग नहीं मिला था. उनका मोबाइल भी बंद आ रहा था. बताया जाता है कि सेवानिवृत्त तहसीलदार का उनके ट्रक ड्राइवर के साथ विवाद हुआ था. इसके बाद उनकी अपहरण की आशंका जताई जा रही थी.

ज्ञात हो कि कुदूदंड चांदनी चौक निवासी मनोहर गायकवाड़ सेवानिवृत्त होने के बाद ट्रक का करोबार कर रहे थे. बिहार का रहने वाला वाहन चालक उनकी गाड़ी चला रहा था. रविवार 18 अगस्त की रात 8.30 बजे गायकवाड़ घर में ड्राइवर को पेमेंट करने के लिए सकरी जाने की बात कहते हुए 15 हजार रुपये लेकर निकले थे.

रविवार रात 10 बजे परिवार के सदस्यों से उनकी बात हुई. उन्होंने बताया कि वे सकरी में हैं, जल्दी घर आ जाएंगे. रात 11 बजे तक वे घर नहीं पहुंचे. परिजन ने फिर से उन्हें फोन लगाया तो उनका मोबाइल बंद मिला. रात भर वे घर नहीं लौटे जिससे घर में हड़कंप मच गया.

दूसरे दिन 19 अगस्त को परिजन उनकी खोज में इधर-उधर भटकते रहे. पतासाजी के दौरान गायकवाड़ की बाइक ग्राम जोंकी में लावारिस हालत में मिली. लावारिस हालत में बाइक मिलने से परिजन हड़बड़ा गए. उन्होंने गायकवाड़ के लापता होने की चकरभाठा थाने में सूचना दी.

अब जब पुलिस को गायकवाड़ का शव मिल गया है पुलिस मृत्यु का कारण पता करने में जुट गई है.

Tags: ,