2 जनवरी को केजरीवाल की परीक्षा

Sunday, December 29, 2013

A A

अरविंद केजरीवाल-सीएम

नई दिल्ली |समाचार डेस्क: अरविंद केजरीवाल 2 जनवरी को दिल्ली विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे. मंत्रिमंडल की पहली बैठक में नई विधानसभा का सत्र 1 जनवरी से आयोजित किए जाने का फैसला लिया गया.

आप सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है, “पांचवीं विधानसभा का पहला सत्र 1 जनवरी से 7 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा. पहले दिन नव निर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी. 2 जनवरी को सरकार विश्वासमत पेश करेगी. 3 जनवरी को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव कराया जाएगा.”

उपराज्यपाल नजीब जंग 6 जनवरी को सदन को संबोधित करेंगे और इसके बाद सदन में धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होगी.

गौरतलब है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम छेड़ने वाले आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को रामलीला मैदान में दिल्ली के सातवें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. इस ऐतिहासिक क्षण का गवाह बनने के लिए हजारों की तादाद में लोग रामलीला मैदान पहुंचे. मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित अरविंद भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान के सबसे प्रमुख प्रवक्ता रहे हैं.

ऐतिहासिक रामलीला मैदान में शपथ लेने के तुरंत बाद ही पिछले छह दशकों के दौरान पंडित जवाहर नेहरू, उनकी पुत्री इंदिरा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जैसे दंतकथा के नायक बन चुके नेताओं की ही तरह अरविंद ने जनता को संबोधित किया. उन्होंने कहा, “यह ऐतिहासिक दिन है. आज केवल केजरीवाल ने नहीं, बल्कि दिल्ली के लोगों ने शपथ ली है. यह दिल्ली के लोगों के हाथों में सत्ता सौंपने का प्रयास है.”

रामलीला मैदान में शपथ लेने वाली देश की यह पहली सरकार है. आम तौर पर यह मैदान राजनीतिक रैलियों का स्थल माना जाता है. केजरीवाल के छह मंत्रियों में से एक रेखा बिड़ला सबसे कम उम्र की कबीना मंत्री हैं. उन्हें महिला एवं बाल विकास विभाग सौंपा गया है.

भ्रष्ट राजनीतिक परिदृश्य में अपनी शैलियों से लोगों में उम्मीद जगाने वाले केजरीवाल ने शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचने के लिए आम आदमी की तरह मेट्रो की सवारी की. वीआईपी संस्कृति को खत्म करने के इरादे की शुरुआत उन्होंने स्वयं से की. उन्होंने दिल्ली के डेढ़ करोड़ लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह वैकल्पिक राजनीति की शुरुआत करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली के डेढ़ करोड़ लोग मिलकर सरकार बना रहे हैं और वे सभी लोग मिलकर इसे चलाएंगे.

ज्ञात्वय रहे कि कांग्रेस ने दिल्ली क् उपराज्यपाल नजीब जंग को पहले ही लिखित में सूचित कर दिया था कि उनकी पार्टी आम आदमी पार्टी को सदन में समर्थन देगी. इसलिये इतना तो तय है 2 जनवरी के दिन अरविंद केजरीवाल सदन में अपना बहुमत साबित कर लेंगे.

Tags: , , ,