जापान का नमो-नमो जाप

Thursday, November 28, 2013

A A

नरेंद्र मोदी-प्रधानमंत्री

मुंबई | समाचार डेस्क: अमरीकी फर्म गोल्डमैन सैक्स के बाद अब जापानी फर्म नोमुरा ने भी नमो-नमो करना प्रारंभ कर दिया है. जापानी ब्रोकरेज फर्म नोमुरा ने संभावना जताई है कि 2014 के आम चुनाव में भारत में मोदी की अगुवाई में भाजपा घठबंधन की सरकार बन सकती है. नोमुरा का मानना है कि मोदी के चुनाव जीतने से सालों से लटके प्रोजेक्टों को रफ्तार मिलेगी.

इससे पहले अमरीकी फर्म गोल्डमैन सैक्स ने भरोसा जताया था कि भारत में 2014 के आम चुनाव में नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बन सकते हैं. गोल्डमैन सैक्स ने हाल के अर्थ व्यवस्था के ऊभार का श्रेय मोदी को दिया था. उन्होंने कहा था कि दिसंबर 2013 तक सेंसेक्स 23,000 के आकड़े को छू लेगा. उस वक्त कांग्रेस ने इसे अपने अंदुरनी राजनीति में बाहरी हस्तक्षेप माना था तथा इसका विरोध किया था. अब जापान की नोमुरा ब्रोकरेज फर्म मोदी के समर्थन में उतर आयी है.

नोमुरा के राजनीतिक विश्र्लेषक एलेस्टेयर न्यूजन का मानना है कि अगले साल होने वाले चुनाव में मोदी की अगुवाई में भाजपा के जीतने की पूरी संभावना है. एलेस्टेयर न्यूटन ने माना है कि मोदी के जीतने के बाद भारतीय राजनीति में स्थिरता दिखाई देगी. जिसके कारण भारत के अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी. नोमुरा ने 2014 में 4.8 फीसदी और 2015 में 5.7 फीसदी जीडीपी ग्रोथ का अनुमान लगाया गया है.

नोमुरा के भारतीय अधिकारी सोनल वर्मा ने कहा है कि दीर्घ कालिक निवेश पर फैसला लेने के लिये राजनीतिक स्थिरता जरूरी होती है. राजनीतिक तौर पर नोमुरा के इस विश्लेषण को जापानी कंपनियों का नरेन्द्र मोदी के प्रति झुकाव के तौर पर देखा जा रहा है. गौर तलब है कि इससे पहले गोल्डमैन सैक्स ने ऐसी ही संभावना जताई थी जिसे कुछ अमरीकी कंपनियों का मोदी के प्रति झुकाव के तौर पर देखा जा रहा है.

बहरहाल भारतीय जनता क्या फैसला देगी उसमें तो अभी देर है परन्तु विदेशी कंपनियों अपने हितो के अनुरूप जोड़-तोड़ में भिड़ गई दिखाई दे रही है.

Tags: , , ,