isis ने लड़की को जिंदा जलाया

Sunday, August 21, 2016

A A

खुदकुशी

बगदाद | समाचार डेस्क: आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की हैवानियत एक 12 साल की लड़की की इंसानियत के सामने हार गई. इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने एक ईसाई परिवार के घर में इस लिये आग लगा दी कि उन्होंने जजिया कर देने में देर कर दी. परन्तु आग में जली लड़की ने मरने से पहले अपनी मां से कहा कि वे इन आतंकियों को माफ कर दे.

मिली जानकारी के मुताबिक, ये घटना इराकी मोसुल शहर की है. आतंकियों ने धार्मिक कर नहीं देने के कारण एक ईसाई परिवार के घर को आग लगा दी. लड़की की मां के मुताबिक, आतंकी हमारे घर आये और कहा कि उनके पास दो ही विकल्‍प हैं. या तो वे जजिया दें या फिर शहर छोड़कर चले जायें. मैंने कहा कि वह टैक्‍स देंगी, परंतु उन्‍हें थोड़ी देर इंतजार करना होगा क्‍योंकि तब उनकी बेटी नहा रही थी.

लेकिन आतंकियों ने उसकी एक ना सुनी और पलभर में ही घर को आग के हवाले कर दिया. आग में लड़की बुरी तरह जल गई. उसकी मां किसी तरह उसे बचाने की कोशिश कर रही थीं. वह जल्‍द से जल्‍द उसे अस्पताल लेकर गईं लेकिन इलाज से पहले ही बेटी ने उनकी बांहों में दम तोड़ दिया. मरने से बेटी ने अपनी मां का अंतिम शब्द कहें कि वह आतंकियों को माफ कर दे.

Tags: , , , ,