इराक में बंधक नर्से भारत आ रही हैं

Friday, July 4, 2014

A A

भारतीय नर्स

तिरुवनंतपुरम | एजेंसी: इराक में बंधक नर्सो को रिहा किया जा रहा है. इस बात की जानकारी केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने शुक्रवार को दी. उन्होंने कहा “नर्सो को ईर्बिल हवाईअड्डे ले जाया जा रहा है. वे भारत लौट रही हैं.” गौरतलब है कि इराक में सुन्नी आतंकवादियों ने 46 भारतीय नर्सो को बंधक बना लिया था.

कुर्दिस्तान की राजधानी ईर्बिल मोसुल से 60 किलोमीटर दूर है. नर्सो को गुरुवार रात तिकरित के अस्पताल से मोसुल ले जाया गया था.

बकौल चांडी मौजूदा सफलता केरल सरकार और केंद्र सरकार के प्रयासों की वजह से मिली है. चांडी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से सुबह मुलाकात करने के बाद नर्सो की सुरक्षित वापसी की उम्मीद जाहिर की.

उन्होंने संवाददाताओं को इससे पहले कहा था, “मुझे हमारी नर्सो के इराक से वापस आने की पूरी उम्मीद है.”

चांडी ने कहा, “सुषमा स्वराज के नेतृत्व में उच्च स्तरीय जोखिम प्रबंधन समूह का गठन किया गया है. यह नर्सो की सुरक्षित वापसी की दिशा में काम करेगा.”

मुख्यमंत्री ने मीडिया से नर्सो से जुड़ी खबरों को बढ़ा-चढ़ा कर न दिखाने की अपील की है. उन्होंने कहा, “मैं सभी जानकारी नहीं दे सकता.”

गौरतलब है कि गुरुवार को हथियारबंद आतंकवादी, नर्सो को बस में बिठाकर तिकरित से मोसुल ले गए थे. शुक्रवार सुबह उन्हें केरल में मौजूद उनके परिवार से बातचीत की इजाजत दी गई थी और भोजन दिया गया था.

उधर केरल की 46 में से एक नर्स ने अपनी मां को फोन पर बताया कि वे सभी वहां सुरक्षित हैं.

उसकी मां ने संवाददाताओं को शुक्रवार को बताया कि उनकी बेटी ने मोसुल से फोन कर बताया कि वहां सब कुछ ठीक है.

नर्स की मां ने कहा, “उसने फोन किया और बताया कि वे गुरुवार शाम मोसुल पहुंचे. वे लोग आधी रात के बाद दो बजे सो पाए. उसने बताया कि उन्हें एक इमारत में रखा गया है और बाहर से हथियारबंद लोग इसकी सुरक्षा कर रहे हैं.”

मां ने बताया, “उसने बताया कि उन्हें भोजन और पानी दिया गया है और उनके साथ अच्छा व्यवहार किया जा रहा है और अब तक सभी चीजें ठीक हैं.”

Tags: , , , , , ,