‘आप’ का प्रेशर ग्रुप, ‘स्वराज संवाद’

Tuesday, April 14, 2015

A A

प्रशांत भूषण

गुड़गांव | समाचार डेस्क: ‘आप’ के अंदर दबाव बनाने के लिये ‘स्वराज संवाद’ की शुरु किया गया. इसकी प्रक्रिया प्रशांत भूषण तथा योगेन्द्र यादव ने मंगलवार से शुरु की. प्रशांत भूषण ने साफ किया कि वे पार्टी छोड़ने नहीं जा रहें हैं तथा पार्टी संविधान के अनुसार पार्टी में लोकतंत्र है. जाहिर है कि प्रशांत-योगेन्द्र की जोड़ी पार्टी में लोकतंत्र के जरिये ने अपनी बात मनवाने के लिये इस ‘स्वराज संवाद’ की शुरुआत की है. आम आदमी पार्टी के नाराज चल रहे नेता योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण ने मंगलवार को ‘स्वराज संवाद’ बैठक की शुरुआत की, जिसका मकसद वैकल्पिक राजनीति के वर्तमान और भविष्य पर चर्चा करना है. आप के स्वयंसेवक बैठक में हिस्सा लेने के लिए देश के अलग-अलग हिस्से से यहां पहुंचे.

बैठक से पहले योगेंद्र ने कहा कि यह नई शुरुआत का दिन है और बैठक वैकल्पिक राजनीति पर संवाद के लिए हो रही है.

उन्होंने कहा, “यह बैठक वैकल्पिक राजनीति पर संवाद के लिए है और मुझे भरोसा है कि हम इस बैठक में कुछ नया देखेंगे. आप के संविधान ने पार्टी के आम सदस्यों को अभिव्यक्ति की आजादी दी है, जो अन्य पार्टी में नहीं है.”

योगेंद्र ने कहा, “अगर कार्यकर्ता पार्टी संविधान के तहत उन्हें दी गई आजादी का इस्तेमाल करते हैं, तो मुझे भरोसा है कि पार्टी इसका आदर करेगी.”

आप के एक अन्य सदस्य आनंद कुमार ने पार्टी को तोड़ने या इसे छोड़ने की किसी भी आशंका से इंकार किया.

उन्होंने कहा, “न हम पार्टी तोड़ेंगे और न ही इसे छोड़ेंगे. हम इसमें सुधार करेंगे. हम नई पार्टी का गठन नहीं करेंगे.”

पार्टी स्वयंसेवकों के बीच विभिन्न प्रकार के आवेदन पत्र वितरित किए गए और उनसे वर्तमान तथा भविष्य की राजनीति पर उनकी राय मांगी गई.

Tags: , , ,