इतिहास बनाने, इतिहास न भूलें: मोदी

Friday, October 31, 2014

A A

नरेन्द्र मोदी- प्रधानमंत्री

नई दिल्ली | एजेंसी: सरदार पटेल के जयंती पर एकता के नाम पर देश की जनता ने दौड़ में हिस्सा लिया. दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी ने हरी झंडी दिखाकर इस दौड़ का शुभारंभ किया. मोदी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जंयती के अवसर पर यहां देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा, “जो देश इतिहास को भूल जाता है, वह इतिहास नहीं बना सकता, इसलिए आकांक्षाओं से भरे देश, एक देश जिसके युवा सपनों से भरे हैं, उसके लिए हमें अपने ऐतिहासिक हस्तियों को नहीं भूलना चाहिए. देश को अपने सिद्धांतों के आधार पर अपने इतिहास और विरासत को विभाजित नहीं करना चाहिए.”

विजय चौक पर दौड़ के लिए हरी झंडी दिखाने के बाद मोदी राजपथ पर चलते हुए इंडिया गेट की तरफ गए. इस दौड़ में सैंकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां शुक्रवार को कहा कि देश को एक करने में सरदार वल्लभ भाई पटेल के योगदान को भारत नहीं भूल सकता. मोदी ने सरदार पटेल की जयंती पर देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा, “ब्रिटिश सल्तनत भारत को टुकड़ों में बांटना चाहती थी, लेकिन सरदार पटेल ने 550 रियासतों को एक राष्ट्र में तब्दील कर दिया.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “अपने इस कौशल, दृष्टिकोण और देशभक्ति से सरदार पटेल ने देश को एक कर दिया. हम आजाद भारत को एक करने में उनके योगदान को नहीं भूल सकते.”

देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार पटेल की 139वीं जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जा रहा है और इस मौके पर विजय चौक पर ‘रन फॉर यूनिटी’ का आयोजन किया गया. प्रधानमंत्री ने देशवासियों को एकता की शपथ भी दिलाई.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की 139 जयंती पर देशवासियों को एकता की शपथ दिलाई. शपथ के अंश इस प्रकार हैं-

मैं सत्यनिष्ठा से यह शपथ लेता हूं कि मैं स्वयं को देश की एकता, अखंडता और सुरक्षा के लिए समर्पित करता हूं और अपने देशवासियों के बीच यह संदेश फैलाने का भी प्रयत्न करूंगा. मैं यह शपथ देश की एकता की भावना से ले रहा हूं, जिसे सरदार पटेल की दूरदर्शिता एवं कार्य द्वारा संभव बनाया जा सका. मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने में अपने योगदान का सत्यनिष्ठा से संकल्प करता हूं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि सरदार पटेल का जीवन ‘मातृभूमि की सेवा’ की यात्रा थी और वह आधुनिक भारत के वास्तविक निर्माता थे.

मोदी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और कहा, “सरदार पटेल का जीवन गहरे साहस, समर्पण और देश सेवा की यात्रा है. वह आधुनिक भारत के असली निर्माता हैं.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि अपने सिद्धांतों के आधार पर देश को इतिहास और विरासत को विभाजित नहीं करना चाहिए.

उन्होंने कहा, “आज प्रेरणा का दिन है, जब हम सरदार पटेल को याद कर रहे हैं.”

देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार पटेल की जयंती पर 31 अक्टूबर को ‘रन फॉर यूनिटी’ का आयोजन किया गया.

Tags: , , , , , , , , , , , , , , ,