WB-IMF में सुधार जरूरी

Monday, October 12, 2015

A A

अरुण जेटली-वित्त मंत्री

लीमा | एजेंसी: भारत ने विश्व बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष में संचालन प्रणाली सुधार के लिए अपनी आवाज फिर से बुलंद की है. विश्व बैंक-आईएएमएफ की सालाना बैठक में हिस्सा लेने यहां आए भारत के आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांता दास ने ट्वीट के जरिए कहा कि भारत ने वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद में विकासशील देशों के बढ़ते अंशदान के अनुरूप दोनों संस्थानों में संचालन प्रणाली सुधार की अपनी मांग दोहराई है.

उन्होंने कहा, “दोनों संस्थान भारत के नीति विषयक उपायों से काफी प्रभावित हैं.”

विश्व बैंक-आईएएमएफ की सालाना बैठक के पूर्ण सत्र में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आईएमएफ में कोटा सुधार लागू करने में हो रही अप्रत्याशित देरी पर गहरी चिंता जताई. उन्होंने कहा कि संचालन संबंधी इन सुधारों के न होने की वजह से संस्थान को अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करने में दिक्कत पेश आ रही है.

दूसरी ओर, लीमा में ही जी-20 देशों के वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंकों के गवर्नरों की बैठक में जेटली ने गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र के स्थाई विकास लक्ष्यों के लिए गैर परंपारगत तरीकों से धन जुटाने की जरूरत पर जोर दिया.

Tags: , , , ,