आईसीआईसीआई अकैडमी फ़ॉर स्किल्स पटना में

Saturday, March 15, 2014

A A

आईसीआईसीआई स्किल्स एकेडमी पटना

पटना | प्रेस विज्ञप्ति: आईसीआईसीआई अकैडमी फ़ॉर स्किल्स (आईसीआईसीआई अकैडमी) ने आज पटना में अपने केन्द्र के आरम्भ की घोषणा की. यह केन्द्र आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करेगा जिससे उन्हें दीर्घकालिक आजीविका कमाने में मदद मिलेगी.

यह केन्द्र चार विषयों में पाठ्यक्रम उपलब्‍ध करायेगा – विद्युत एवं गृह-उपकरण मरम्मत, रैफ़्रिजरेशन एवं एयर कंडीशनिंग मरम्मत, पम्प एवं मोटर मरम्मत तथा रिटेल कैफ़े परिचालन.

आईसीआईसीआई अकैडमी विद्युत एवं गृह-उपकरण मरम्मत, रैफ़्रिजरेशन एवं एयर कंडीशनिंग मरम्मत, पम्प एवं मोटर मरम्मत तथा रिटेल कैफ़े परिचालन के पाठ्यक्रमों की विषय-वस्तु को औपचारिक रूप दे चुकी है जिसमें अपने वर्ग के सर्वश्रेष्ठ साझेदारों, नामतः श्नीडर इलैक्ट्रिक इंडिया प्रा. लि., ब्लू स्टार लि., क्रॉम्प्टन ग्रीव्ज़ लि. एवं कैफ़े कॉफ़ी डे की मदद ली गई है. पटना केन्द्र इन पाठ्यक्रमों में नामांकित विद्यार्थियों के लिए आवासीय सुविधाएं भी प्रस्तुत करायेगा.

आईसीआईसीआई फ़ाउंडेशन फ़ॉर इन्क्लूसिव ग्रोथ (आईसीआईसीआई फ़ाउंडेशन) ने समावेशी विकास को बढ़ावा देने की अपनी योजना के अनुरूप आईसीआईसीआई अकैडमी की शुरुआत की थी. आईसीआईसीआई अकैडमी का लक्ष्य है कि अपने परिचालन के पहले वर्ष में देशभर में फैले अपने नौ केन्द्रों के जरिए 5,000 युवाओं को प्रशिक्षित किया जाए.

इस शुभारम्भ की घोषणा करते हुए, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एएमसी के एमडी एवं सीईओ श्री निमेश शाह ने कहा, “आईसीआईसीआई समूह ने अपनी सीएसआर एवं व्यापारिक पहलों के माध्यम से ऐसे सामाजिक बुनियादी ढांचे के निर्माण की दिशा में कार्य किया है जो प्रत्येक व्यक्ति के उत्पादक एवं लाभकारी आर्थिक गतिविधि में संलग्न होने में मदद कर सकता है. आईसीआईसीआई अकैडमी की स्थापना इसी विश्वास के एक विस्तार के रूप में की गई है जिसमें हम युवाओं में व्यावसायिक कौशलों का विकास करने की दिशा में प्रयास करेंगे जिससे उन्हें चिरस्थायी आजीविका कमाने में मदद मिलेगी. हम आशा करते हैं कि इस अकैडमी में सीखे गए कौशलों से वे युवा आगामी दशकों में भारत की विकास गाथा को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने में सक्षम बन जाएंगे.”

पिछले पाँच वर्षों के दौरान आईसीआईसीआई समूह एवं आईसीआईसीआई फ़ाउंडेशन का सीएसआर दर्शन चार मुख्य क्षेत्रों, नामतः प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, प्राथमिक शिक्षा, चिरस्थायी आजीविका के लिए कौशल विकास और वित्तीय समावेशन पर फोकस करता आ रहा है एवं इसके जरिए से वह लोगों को भारत में उभर रहे आर्थिक अवसरों में सहभागिता करने में सक्षम बना रहा है. इन पहलों ने देशभर के 1 करोड़ से भी ज्यादा लोगों की जिंदगियों पर असर डाला है.

अक्तूबर 2013 में जयपुर में अपने पहले केन्द्र को शुरु करने के बाद, आईसीआईसीआई अकैडमी ने चेन्नई, हैदराबाद, बंगलुरु, पुणे, कोयम्बतूर एवं नरसोबावाड़ी (महाराष्ट्र) में केन्द्र आरम्भ किए. अगले हफ्ते गुवाहाटी केन्द्र आरम्भ होने जा रहा है.

केन्द्रों पर पेश किए जा रहे प्रशिक्षण के अलावा, आईसीआईसीआई अकैडमी गणवेश, भोजन एवं सारी सम्बन्धित पाठ्यक्रम सामग्री भी विद्यार्थियों को प्रदान करती है. प्रत्येक केन्द्र में विद्यार्थियों के उपयोग के लिए एक पुस्तकालय भी है.

Tags: ,