नमक नहीं बीएमआई बढ़ाता है रक्तचाप

Wednesday, September 10, 2014

A A

मोटापा

लंदन | एजेंसी: अगर आप उच्च रक्तचाप की समस्या से जूझ रहे हैं, तो सर्वप्रथम अपना बॉडी मास इंडेक्स जांच लें. एक नए शोध के अनुसार, सोडियम की मात्रा की बजाय बीएमआई स्वास्थ्य को अधिक प्रभावित करता है. शोधकर्ताओं ने वेब आधारित अध्ययन दस्ते न्यूट्रीनेट-सैन्ट स्टडी के 8,670 वालंटियरों के डाटा का विश्लेषण कर पाया कि बीएमआई, रक्तचाप का स्तर बढ़ने की मुख्य वजह है.

शोध के दौरान, 24 घंटे के रिकॉर्ड का इस्तेमाल कर आहारीय खपत का मूल्यांकन किया गया.

जीवनशैली संबंधी जानकारी प्रश्नावली और तीन रक्तचाप माप का इस्तेमाल कर जुटाई गई थी.

सिस्टोलिक बीपी और जीवनशैली से आयु और उसके बाद बहु-वेरीइट का संबंध बहु-रेखीय प्रतिगमन का इस्तेमाल कर आंका गया.

शोधकर्ताओं ने पाया कि उन्नत बॉडी मास इंडेक्सिस वाले प्रतिभागियों में सिस्टोलिक बीपी उच्च था.

पुरुषों में नमक की खपत का सिस्टोलिक बीपी से सकारात्मक संबंध था, लेकिन महिलाओं में नहीं.

शोध के लेखकों ने कहा, “दोनों लिंगों में फलों व सब्जियों की खपत के बीच नकारात्मक संबंध और सिस्टोलिक बीपी महत्वपूर्ण था.”

दोनों लिंगों में शराब की खपत का सिस्टोलिक बीपी से सकारात्मक संबंध था, जबकि शारीरिक गतिविधि का नहीं था.

आप चाहे तो नीचे दिये लिंक से अपना बीएमआई जांच सकते हैं.

http://hi.yourwebdoc.com/bmi.php

Tags: , , , , ,