दाढ़ी के साथ रहना चाहती है हरनाम कौर

Wednesday, February 19, 2014

A A

हरनाम कौर

लंदन | एजेंसी: ब्रिटेन में एक दुर्लभ बीमारी के कारण भारतीय मूल की एक लड़की के चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों के केश असामान्य तरीके से बढ़ रहे हैं.

सिख धर्म मानने वाली हरनाम कौर नामक इस लड़की ने केश नहीं कटाने का फैसला किया है. डेली मेल के मुताबिक, हरनाम कौर के चेहरे पर दाढ़ी उगनी तब शुरू हुई जब वह महज 11 वर्षो की थी. पोलीसायस्टिक ओवरी सिंड्रोम के कारण उसकी दाढ़ी के बाल निकलने शुरू हुए.

तुरंत ही बाल उसकी छाती और बाहें तक फैल गए जिससे स्कूल और राह चलते उसे तानों का सामना करना पड़ा. कौर अब 16 वर्षो की हो चुकी है और उसे इंटरनेट पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है.

इससे पहले हरनाम अपने बालों के कारण शर्मिदा होती थी और सप्ताह में दो बार वैक्स और ब्लीचिंग व शेविंग भी करती थी. उसके बाल घने होते गए और फैलते गए जिससे उसमें हीनताबोध घर कर गया और उसने अपने घर से बाहर जाना बंद कर दिया.

बाद में उसने सिख पंथ की मान्यता के अनुसार अपने केश नहीं कटाने का फैसला किया.

Tags: ,