तंबाखू से हिमोफिलिया का इलाज?

Saturday, September 6, 2014

A A

रक्तस्राव

न्यूयॉर्क | एजेंसी: मनुष्यों में गंभीर बीमारी हिमोफिलिया का सस्ता और सुरक्षित इलाज तंबाखू के पौधे की कोशिकाओं द्वारा संभव हो सकेगा. इसका तरीका शोधकर्ताओं ने विकसित कर लिया है. फ्लोरिडा विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ मेडिसिन में अध्ययन के सह लेखक रोलैंड हेरजॉग ने कहा, “हिमोफिलिया के इलाज की तरफ यह एक महत्वपूर्ण कदम है.”

उल्लेखनीय है कि हिमोफिलिया के मरीजों में एक जरूरी प्रोटीन की कमी होती है, जो त्वचा या शरीर के किसी भाग के कटने या छिलने के बाद रक्त का थक्का बनने में मदद करता है, ताकि रक्तस्राव बंद हो सके.

ऐसे में इसके मरीजों को इंजेक्शन की मदद से नियमित तौर पर वह आवश्यक प्रोटीन लेना पड़ता है.

अमरीका में पेंसिलवानिया स्कूल ऑफ डेंटल मेडिसिन विश्वविद्यालय के सहायक लेखक हेनरी डेनियल ने कहा, “पौधों की कोशिकाओं की मदद से बना कैप्सूल हिमोफिलिया के इलाज का सुरक्षित व सस्ता विकल्प है.”

शोध के दौरान शोधकर्ताओं ने फैक्टर 8 डीएनए और अन्य पदार्थो के संयोजन को तंबाकू के पौधों के अनुवांशिक पदार्थो से जोड़ दिया, जिसके बाद विकसित पौधे की कोशिकाओं से इलाज के लिए दवा का विकास किया गया.

हिमोफिलिया से पीड़ित चूहों पर इसका परीक्षण सफल रहा, जबकि मनुष्यों के दवा के विकास के लिए इसका इस्तेमाल सलाद के पौधों पर किया जाएगा.

Tags: , , , , , ,